सनराइजर्स ने दर्ज की आखिरी गेंद पर जीत,ऐसा रहा मैच का रोमांच

medhaj news 13 Apr 18 , 06:01:38 Sports
mivs_srs.jpg

हैदराबाद। सनराइजर्स हैदराबाद ने आज रात यहां इंडियन प्रीमियर लीग टी20 मैच के अंतिम गेंद तक चले रोमांच में मुंबई इंडियंस को एक विकेट से हरा दिया। सनराइजर्स हैदराबाद की शानदार गेंदबाजी के सामने मुंबई इंडियंस की टीम बल्लेबाजी का न्यौता मिलने के बाद आठ विकेट गंवाकर 147 रन ही बना सकी थी लेकिन मयंक मारकंडे की लाजवाब गेंदबाजी के दम पर उसने इस छोटे लक्ष्य का अच्छा बचाव करने का प्रयास किया। हैदराबाद। सनराइजर्स हैदराबाद ने आज रात यहां इंडियन प्रीमियर लीग टी20 मैच के अंतिम गेंद तक चले रोमांच में मुंबई इंडियंस को एक विकेट से हरा दिया। सनराइजर्स हैदराबाद की शानदार गेंदबाजी के सामने मुंबई इंडियंस की टीम बल्लेबाजी का न्यौता मिलने के बाद आठ विकेट गंवाकर 147 रन ही बना सकी थी लेकिन मयंक मारकंडे की लाजवाब गेंदबाजी के दम पर उसने इस छोटे लक्ष्य का अच्छा बचाव करने का प्रयास किया।सनराइजर्स हैदराबाद ने बिली स्टैनलेक के अंतिम गेंद पर चौका लगाने से 20 ओवर में नौ विकेट पर 151 रन बनाकर रोमांचक जीत हासिल की। यह उसकी दूसरे मैच में दूसरी जीत है जबकि मुंबई की यह दूसरे मुकाबले में दूसरी हार है। पंजाब के 20 वर्षीय मंयक मारकंडे ने अपने दूसरे ही मैच में अपनी अद्भुत गेंदबाजी से प्रभावित किया, उन्होंने अपने चार ओवर में 23 रन देकर चार विकेट झटके। अपने पहले मैच में उन्होंने चार ओवर में इतने ही रन देकर तीन विकेट प्राप्त किए थे।मुंबई इंडियंस उनके इस प्रदर्शन से जीत की स्थिति में पहुंच गईथी। लेकिन घरेलू टीम के लिए दीपक हुड्डा (नाबाद 32, 25 गेंद में एक चौका और एक छक्का) एक छोर पर डटे रहे, जिससे टीम उतार-चढ़ाव भरे इस मुकाबले को जीतने में सफल रही।घरेलू टीम के लिए सलामी बल्लेबाज शिखर धवन (45 रन, 28 गेंद में आठ चौके) और रिद्धिमान साहा (22 रन, 20 गेंद में तीन चौके) ने मिलकर पहले विकेट के लिए 62 रन की भागीदारी कर अच्छी शुरुआत की। युवा मयंक मारकंडे ने साहा को पगबाधा आउट कर इस साझेदारी का अंत किया।इसके बाद हैदराबाद ने लगातार तीन विकेट गंवा दिए, जिससे स्कोर एक विकेट पर 62 रन से चार विकेट पर 89 रन हो गया। साहा के बाद धवन, कप्तान केन विलियम्सन और मनीष पांडे (11) पवेलियन लौट गए। बांग्लादेशी क्रिकेटर शाकिब उल हसन और दीपक हुड्डा के आने के बाद थोड़ी उम्मीद जगी।
शाकिब ने हमवतन मुस्तफिजुर रहमान (चार ओवर में 23 रन देकर तीन विकेट) की गेंद पर चौका जड़कर टीम के 100 रन पूरे कराए। लेकिन वह मयंक की गेंद पर बोल्ड हो गए जो उनका चौथा विकेट था। मैच काफी रोमांचक स्थिति में पहुंच गया, अंतिम चार ओवर में हैदराबाद को 24 गेंद में 24 रन चाहिए थे और उसके पांच विकेट बाकी थे।
यूसुफ पठान (14) और दीपक ने मिलकर छठे विकेट के लिए 29 रन बनाए, जिससे लगा कि दोनों टीम को जीत तक पहुंचा देंगे, लेकिन जसप्रीत बुमराह (चार ओवर में 32 रन देकर दो विकेट) ने उनकी उम्मीदों पर पानी फेरते हुए पठान के बाद राशिद खान को आते ही पैवेलियन की राह दिखा दी। अब दर्शकों के चेहरे से भी तनाव देखा जा सकता था। स्कोर अब सात विकेट पर 136 रन था और 12 गेंद में 12 रन की दरकार थी। सिद्धार्थ कौल शून्य पर मुस्तफिजुर रहमान का शिकार बने। संदीप शर्मा भी आते ही चलते बने।
19वें ओवर में टीम ने एक रन बनाया और दो विकेट गंवाए। अंतिम ओवर में 11 रन चाहिए थे, दीपक ने छक्का जड़कर थोड़ा तनाव कम किया, अगली गेंद वाइड रही। फिर कोई रन नहीं बना। फिर 1, 1, 1 और चार रन। इस तरह आईपीएल में किसी टीम ने अंतिम गेंद में एक विकेट से जीत दर्ज की।
इससे पहले तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार की अनुपस्थिति के बावजूद सनराइजर्स हैदराबाद के गेंदबाजों ने कहीं भी उनकी कमी नहीं खलने दी, जिससे मुंबई बड़ा स्कोर नहीं खड़ा कर पाई। उनके गेंदबाजों के दबदबे का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि मुंबई ने अंतिम पांच ओवरों में 36 रन जुटाए जबकि अंतिम 10 ओवर में 69 रन ही जोड़े।
अफगानिस्तानी लेग स्पिनर राशिद खान सबसे किफायती रहे जिन्होंने चार ओवर में 13 रन देकर एक विकेट झटका, उन्होंने 18 डॉट गेंद फेंकी। इस प्रदर्शन से वह 'मैन ऑफ द मैच' रहे। वहीं सिद्धार्थ कौल, बिली स्टैनलेक और ‘भुवी’ की जगह शामिल हुए संदीप शर्मा को दो-दोविकेट मिले जबकि शाकिब अल हसन ने एक विकेट हासिल किया।
मुंबई इंडियंस की शुरुआत अच्छी नहीं हुई, उसने दूसरे ही ओवर में अपने कप्तान रोहित शर्मा (11) का विकेट गंवा दिया, जो फिर से टीम के लिए पारी का आगाज करने में विफल रहे। स्टैनलेक की ओवर की अंतिम गेंद पर शाकिब अल हसन ने स्क्वेयर लेग से डाइव करते हुए उनका कैच लपका। टीम ने छठे ओवर और सिद्धार्थ कौल के पहले ही ओवर में ईशान किशन (11) और सलामी बल्लेबाज एविन लुईस (29 ) के रूप में दो विकेट गंवा दिए।
ईशान नौ गेंद खेलने के बाद थर्ड मैन में यूसुफ पठान को कैच देकर चलते बने, जिन्होंने घुटने से स्लाइड करते हुए इसे लपका। एविन लुईस (17 गेंद में तीन चौके और दो छक्के) कौल की गेंद पर बोल्ड हुए। शाकिब अल हसन ने क्रुणाल पंड्या (15) को ज्यादा देर क्रीज पर नहीं टिकने दिया और यह बल्लेबाज एक्सट्रा कवर पर विपक्षी टीम के कप्तान केन विलियम्सन के हाथों कैच आउट हुए।
किरोन पोलार्ड (28, 23 गेंद में तीन चौके और दो छक्के) और सूर्य कुमार यादव (28, 31 गेंद में दो चौके और एक छक्के) ने मिलकर पांचवें विकेट के लिए सर्वाधिक 38 रन की साझेदारी निभाई। संदीप ने लगातार गेंदों में सूर्यकुमार और प्रदीप सांगवान को आउट किया। हार्दिक पांड्या चोट के कारण मुंबई के लिए मैच में नहीं खेल सके।

 

    मेधज न्यूज़ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

    ...
    loading...

    Similar Post You May Like


    Trends