PM मोदी की मौजूदगी में हुई उदय योजना और खनन निलामी की समीक्षा बैठक

Medhaj News 22 Jul 17,19:34:59 Uday Yojana
uday_review.jpg

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को उज्जल डिस्काउंट एश्योरेंस योजना (उदय) की प्रगति और खानों की नीलामी की समीक्षा की। इस बैठक में उर्जा मंत्री पीयूष गोयल, पीएमओ के वरिष्ठ अधिकारी, नीति आयुक्त और अन्य मंत्रालयों ने भाग लिया।

इस बैठक में मोदी ने खानों की नीलामी के बाद उनके खनन के काम में तेजी लाने के लिए कार्य योजना तैयार करने की जरूरत बताई है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि खनिज की संभावना वाले क्षेत्रों के सर्वेक्षण किया जाए और नक्शे तैयार करने के दौरान खान से जुड़े विभिन्न विभागों के बीच बेहतर समन्वय बैठाया जाए।

उदय योजना की समीक्षा-

उदय के शुभारंभ में डिस्काउंट के संचित घाटे में 3.8 लाख करोड़ रुपये की बढ़ोतरी हुई। उनका बकाया कर्ज 4.3 लाख करोड़ रुपये रहा। उदय की शर्तों के अनुसार 16 राज्यों की राज्य सरकारें अपनी बिजली वितरण कंपनियों (डिस्कॉम) के 2.08 लाख करोड़ रुपये का कर्ज ले चुकी हैं। इससे ब्याज दर को 11-12% से 7% -8.5% कम करने में मदद मिली, जिसके परिणामस्वरूप दिसंबर 2016 तक डिस्कॉम ने 11,989 करोड़ रुपये की बचत की।

उदय योजना के साइन होने से लेकर अब-तक कई राज्यों की डिस्कॉमों के प्रदर्शन में सुधार देखा जा रहा है।

अब उदय योजना के कारण ACS(एवरेज कॉस्ट ऑफ सप्लाई)- ARR(एवरेज रेवन्यू रियलाइज) के बीच अंतर में भी कमी आई है। वित्त वर्ष 2017 में दोनों में अंतर 0.07 यूनिट रहा।

सभी उदय राज्यों के लिए औसत कुल तकनीकी और वाणिज्यिक (एटी एंड सी) के नुकसान लगभग चार प्रतिशत अंक नीचे 20.2% तक आ गए हैं। 

    मेधज न्यूज़ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

    ...
    loading...

    Similar Post You May Like


    Trends

    Special Story