उदय योजना के कारण डिस्कॉम 2.0 9 लाख करोड़ रुपये के कर्ज से उभरा: विद्युत मंत्रालय

मेधज न्यूज 16 Aug 17,19:03:07 Uday Yojana
UDAY.jpg

विद्युत मंत्रालय ने बुधवार को कहा कि भारतीय राज्यों ने उज्जल डिस्कॉम एश्योरेंस योजना (उदय) के जरिए डिस्कॉम 2.0 9 लाख करोड़ रुपये के कर्ज से उभर चुका है। एक रिपोर्ट जारी कर मंत्रालय ने कहा, "उदय में भाग लेने वाले राज्यों ने 2015-16 और 2016-17 के सालों में उदय में दिए गए एफआरबीएम अधिनियम से 2.09 लाख करोड़ रुपये के डिस्कॉम पर ऋण लिया है।" इसके साथ ही, राज्यों को लक्षित ऋण लेना और उन्हें राज्य विकास ऋण (एसडीएल) बांड के रूप में जारी करने की प्रक्रिया पूरी हो गई है।

वहीं मार्च 2017 तक, प्रतिभागी राज्यों के डिस्कॉम ने लगभग 15,000 करोड़ की शुद्ध बचत हासिल की है। इसके अलावा राज्यों में  आपूर्ति की औसत लागत (एसीएस) औसत राजस्व का एहतियात (एआरआर) अंतराल लगभग 14 पैसे प्रति यूनिट से नीचे आ गया है और एटी एंड सी के नुकसान में वित्त वर्ष 17 में लगभग 1% की कमी आई है। साथ ही उदय योजना में भाग लेने वाले राज्यों के डिस्कॉम को लगभग 37,000 करोड़ रुपये के बॉड जारी करना है, जिसके लिए मंत्रालय का कहना है कि वह उचित समय पर किया जाएगा।

इसे भी पढ़ें-PM मोदी की मौजूदगी में हुई उदय योजना और खनन निलामी की समीक्षा बैठक

बता दें, उदय योजना नवंबर 2015 में लागू की गई थी। इसके तहत  राज्य सरकारों को अपने संबंधित डिस्कॉम (जैसे सितंबर 2015 के अंत तक) की 75% से अधिक छोटी अवधि की देनदारी लेने की जरूरत है, पहले वर्ष में 50% (वित्त वर्ष 16) और वित्त वर्ष 17 में शेष राशि डिस्कामो से अपने ऋण के शेष 25% के लिए बांड जारी करने की उम्मीद है।

    मेधज न्यूज़ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

    ...
    loading...

    Similar Post You May Like


    Trends