उदय योजना के आगमन से डिस्कॉम को बड़ी राहत, आए अच्छे दिन

मेधज न्यूज 27 Jul 17,18:26:26 Uday Yojana
uday_yojana.jpg

उदय के आगमन से भारी नुकसान झेल रही डिस्क़ॉम को राहत मिली है। मोदी सरकार की कड़ी मेहनत के चलते ऊर्जा मंत्रालय ने 29, 000 करोड़ रूपए तक की बिजली बचाने में सफलता प्राप्त हुई है। सरकार के इस बड़ी उपलब्धि के कारण डिस्कॉम के नुकसान में 41 प्रतिशत की कमी आई है। उदय योजना के कारण भारी नुकसान झेल रहे राज्य जैसे यूपी, राजस्थान और तमिलनाडु के नुकसान में 60 से 70 प्रतिशत की कमी आई है, वहीं हरियाणा के नुकसान में 90 प्रतिशत की कमी आई है।

उज्जवल डिस्कॉम एश्योरेंस योजना (उदय) एक ऐसी योजना है जो ऊर्जा मंत्रालय द्वारा आगे बढ़ी है। उदय का लक्ष्य बिजली वितरण कंपनियों (डिस्‍कॉम) का वित्‍तीय सुधार एवं उनका पुनरूत्‍थान करना और समस्‍या का एक टिकाऊ और स्‍थायी समाधान भी सुनिश्चित करना है।

उदय योजना के तहत बिजली वितरण कंपनियों को आगामी दो-तीन वर्षों में उबारने हेतु निम्नलिखित चार पहलें अपनायी जाएंगी।

1. बिजली वितरण कंपनियों की परिचालन क्षमता में सुधार।

2. बिजली की लागत में कमी।

3. वितरण कंपनियों की ब्याज लागत में कमी।

4. राज्य वित्त के साथ समन्वय के माध्यम से वितरण कंपनियों पर वित्तीय अनुशासन लागू करना।

गौरतलब है कि 12 राज्यों ने AT एंड C  नुकसान में कमी की सूचना दी और 15 राज्यों ने अपनी कुल लागत की आपूर्ति (ACS) और आकलन की कुल दर के बीच अंतर में कमी की जानकारी दी है।

कुल मिलाकर, 2016-2017 में ACS-ARR का अंतर 59 पैसे प्रति यूनिट से घटकर लगभग 45 पैसे प्रति यूनिट रह गया है। सरकार के मुताबिक  इस साल बिजली कटौती में 61% गिरावट आई है।

मोदी सरकार की अन्य उपलब्धियों की एक संक्षिप्त जानकारी ये है-

-मई 2017 तक देश के कुल 18,452 गांवों में से 13,511 गांवों तक बिजली पहुंचाई गई।

-वर्ल्ड बैंक के 'बिजली मिलने में आसानी के इंडेक्स' में भारत की रैंक 2017 में बढ़कर 26 हुई, जो 2015 में 99 थी।

इसे भी पढ़ें-लेख: क्या है उदय योजना और इससे कैसे और किसे मिलेगा फायदा…

-सोलर और पवन ऊर्जा में रिकॉर्ड लो टैरिफ का स्तर हासिल किया। पवन ऊर्जा टैरिफ कम होकर 3.46 रुपए प्रति यूनिट तक आ गया है। -56 करोड़ से भी अधिक एलईडी बल्ब बांटे गए। UJALA के तहत सरकार द्वारा 23 करोड़ और प्राइवेट सेक्टर द्वारा 22 करोड़ बल्ब बांटे गए।

-ऊर्जा की बचत करने वाले 7 लाख पंखे बांटे गए।

-18.5 लाख एलईडी ट्यूबलाइट बांटी गईं। 7 से 20 लाख एलईडी स्ट्रीट लाइट इंस्टॉल की गईं।

इसे भी पढ़ें-‘उदय योजना’ से राज्य को हो रहा फायदा, बिजली चोरी थमी और बिजली के दाम भी हुए कम

    मेधज न्यूज़ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

    ...
    loading...

    Similar Post You May Like


    Trends

    Special Story