गूगल पर लगा एंड्रॉइड यूजर्स के डाटा चोरी का आरोप

medhaj news 16 May 18,18:57:10 World
android_app.jpeg

गूगल पर ऑस्ट्रेलिया में एंड्रॉइड यूजर्स के डाटा को गलत तरीके से इकठ्ठा करने का आरोप लगा है। गूगल पर यह आरोप सॉफ्टवेयर बनाने वाली कंपनी ऑरेकल ने लगाया है। हालांकि गूगल पर इससे पहले भी पिछले साल नवंबर में इस तरह के आरोप लग चुके हैं। ऑरेकल ने ऑस्ट्रेलियाई प्रतिस्पर्धा एवं गोपनीयता नियामक से इस मामले में जांच करने की अपील की है। ऑस्ट्रेलियाई नियामक में ऑरेकल ने 15 मई को बताया कि गूगल लाखों एंड्रॉइड यूजर्स का डाटा उन्हें बिना बताए इकठ्ठा कर रही है जिसके लिए यूजर्स को न चाहते हुए भी टेलीकॉम कंपनियों को डाटा इस्तेमाल करने के चार्ज देने पड़ रहे हैं। सोशल मीडिया कंपनी फेसबुक पर भी कुछ महीने पहले डाटा चोरी का आरोप लग चुका है।

आरोपों का जबाब देते हुए कंपनी के प्रवक्ता ने बताया कि गूगल के पास यूजर्स के डाटा इकठ्ठा करने की अनुमति है। किसी भी तरह के लोकेशन संबंधी सेवा के इस्तेमाल में खपत होने वाले डाटा के लिए यूजर्स को टेलीकॉम कंपनियों के प्लान के हिसाब से चार्ज किया जाता है। इस तरह की किसी भी सर्विस का इस्तेमाल यूजर्स पर निर्भर करता है। अगर यूजर्स को लगता है कि उनको डाटा खपत करने का चार्ज किया जा रहा है तो वह अपने यूजर सेटिंग्स में जाकर अपने सर्विस को डिएक्टिवेट कर सकते हैं।

जावा प्लेटफॉर्म इस्तेमाल करने पर मिलने वाले रॉयल्टी को लेकर ऑरेकल और गूगल के बीच लंबे समय से विवाद चल रहा है। ऑरेकल चाहती है कि गूगल जावा के लिए उसे रॉयलिटी दे वहीं गूगल दलिल देती आ रही है कि जावा प्लेटफार्म का इस्तेमाल फ्री में किया जाना चाहिए।

    मेधज न्यूज़ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

    ...

    Similar Post You May Like