फीफा वर्ल्ड कप मे टीमों पर होगी इनामो की रिकॉर्ड बारिश

medhaj news 8 Jun 18,19:16:07 World
worldcup.jpg

रूस में अगले सप्ताह से शुरू हो रही ‘पैरों की जंग’ में दाव पर सिर्फ फुटबॉल की बादशाहत और 18 कैरेट की चमचमाती सोने की ट्रोफी ही नहीं होगी, बल्कि जीतने वाली टीमों पर डॉलर की रेकॉर्ड बरसात भी होने वाली है। रूस में 14 जून से 15 जुलाई तक जब 32 टीमें फुटबॉल के महासमर में टकराएंगी तो अनगिनत इनाम खिलाड़ियों के नाम लिखे होंगे। इस बार फीफा विश्व कप 2018 में कुल इनामी राशि 79 करोड़ दस लाख डॉलर (791 मिलियन डॉलर यानी 53 अरब रुपये से अधिक) है, जो पिछली बार 2014 में ब्राजील में हुए विश्व कप से 40 प्रतिशत अधिक है।

भारत में सबसे लोकप्रिय खेल क्रिकेट के विश्व कप से अगर इसकी तुलना की जाए तो उसकी इनामी राशि फुटबॉल विश्व कप से करीब 8 गुना कम है। ऑस्ट्रेलिया और न्यू जीलैंड की मेजबानी में हुए क्रिकेट विश्व कप 2015 में आईसीसी ने कुल इनामी राशि 10 मिलियन दो लाख 25000 डॉलर यानी करीब 68 करोड़ 53 लाख रुपये रखी थी। इसमें से विजेता को 39 लाख 75000 डॉलर और उपविजेता को 17 लाख 50000 डॉलर मिले थे। ग्रुप चरण से बाहर होने वाली टीमों को दो लाख 10000 डॉलर दिए गए थे। आंकड़ों के आधार पर दोनों विश्व कप की तुलना बेमानी है।

फीफा के आंकड़ों के अनुसार विश्व कप फुटबॉल कुल पुरस्कार राशि में से 40 करोड़ डॉलर टीमों को उनके प्रदर्शन के आधार पर मिलेंगे, जबकि बाकी 39 करोड़ 10 लाख डॉलर खिलाड़ियों के क्लबों को विभिन्न योजनाओं के तहत दिए जाएंगे। मास्को के लुजनिकी स्टेडियम पर 15 जुलाई को जो टीम विश्व कप जीतेगी, उसे 3 करोड़ 80 लाख डॉलर यानी 38 मिलियन डॉलर (225 करोड़ रुपये) मिलेंगे | उपविजेता को दो करोड़ 90 लाख डॉलर (194.4 करोड़ रुपये) और तीसरे स्थान पर रहने वाली टीम को दो करोड़ 40 लाख डॉलर (160.1 करोड़ रुपये) मिलेंगे। फीफा के क्लब लाभार्थ कार्यक्रम के तहत 20 करोड़ 9 लाख डॉलर उन क्लबों को दिए जाएंगे, जिन्होंने विश्व कप में भाग लेने के लिए अपने खिलाड़ियों को छोड़ा है। वहीं 13 करोड़ 40 लाख डॉलर क्लब सुरक्षा कार्यक्रम के तहत दिये जाएंगे, जिसमें विश्व कप के दौरान खिलाड़ी के चोटिल होने से हुए नुकसान की भरपाई होगी।

टूर्नमेंट में भाग ले रही सभी 32 टीमों को तैयारी की फीस के तौर पर 15-15 लाख डॉलर मिलेंगे। वहीं पहले चरण से बाहर होने वाली प्रत्येक टीम को 80 लाख डॉलर और अंतिम 16 से बाहर होने वाली टीमों को एक करोड़ 20 लाख डॉलर दिए जाएगे। क्वॉर्टर फाइनल हारने वाली टीमों को एक करोड़ 60 लाख रुपये मिलेंगे। चौथे स्थान पर रहने वाली टीम को दो करोड़ 20 लाख डॉलर दिए जाएंगे।

    मेधज न्यूज़ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

    ...
    loading...

    Similar Post You May Like


    Trends

    Special Story