इब्राहिम मोहम्मद सोलिह मालदीव के अगले राष्ट्रपति,अब्दुल्ला यामीन हारे

Medhaj news 25 Sep 18,00:39:57 World
Maldives_5.jpg

हिन्द महासागर में स्थित छोटे से द्वीप समूह मालदीव की जनता ने भारत से अच्छे रिश्ते रखने के हिमायती मालदिवियन डेमोक्रेटिक पार्टी (MDP) के उम्मीदवार इब्राहिम मोहम्मद सोलिह को विजयी बनाया है। भारत के साथ रिश्तों को ताक पर रख कर चीन की नीतियों को बढ़ावा देने में जुटे राष्ट्रपति अब्दुल्लाह अमीन को करारा झटका लगा है। भारत ने भी रविवार को हुए चुनाव परिणाम का स्वागत किया है। भारत ने कहा है कि यह जीत मालदीव में लोकतांत्रिक मूल्यों की है और वह नई सरकार के साथ काम करने को इच्छुक है |





जानकारी के मुताबिक, सोलीह को कुल 92 फीसद में से 58.3 फीसद मत हासिल हुए हैं। चुनाव पर नजर रखने वाले स्वतंत्र एजेंसी ट्रांसपेरेंसी मालदीव्स के मुताबिक, सोलीह ने निर्णायक अंतर से जीत हासिल की है। वहीं, जीत के बाद अपने पहले भाषण में सोलीह ने कहा, 'यह खुशी, उम्मीद और इतिहास का पल है।'



ये भी पढ़े - हिमाचल प्रदेश में मूसलाधार बारिश,24 घंटे में 9 करोड़ का नुकसान



सोलीह की जीत की घोषणा के बाद विपक्षी समर्थक मालदिवियन डेमोक्रेटिक पार्टी (MDP) का पीला झंडा लेकर सड़कों पर उतर आए और उनकी जीत का जश्न मनाया। इस बीच चुनावी नतीजे आने के बाद यामीन की तरफ से कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है। हालांकि, सोलीह ने कहा, 'मैं यामीन से कहना चाहूंगा कि वह लोगों की इच्छा का सम्मान करें और सत्ता का शांतिपूर्ण हस्तांतरण करें।' उन्होंने साथ ही राजनीतिक बंदियों को रिहा करने की भी अपील की है।





मालदीव चुनाव के परिणाम काफी अप्रत्याशित रहे हैं। जिस तरह से चुनाव प्रक्रिया अपनाई गई उसको लेकर भारत, अमेरिका और ब्रिटेन ने आशंका जताई थी। लग रहा था कि राष्ट्रीय यामीन सत्ता हथियाने के लिए कुछ गड़बड़ी करेंगे। लेकिन जिस तरह से अंतररष्ट्रीय पर्वेक्षकों ने निगरानी की, उसकी वजह से संभवत ऐसा नहीं हो सका। साथ ही एक छोटे से द्वीप समूह में चीन के बढ़ते दबदबे के आसार को देख कर भी आम नागरिकों में एक तरह का रोष था।


    Comments

    Leave a comment


    Similar Post You May Like