जेम्स हैरिसन ने बचाई 24 लाख बच्चों की जान

medhaj news 16 May 18,15:52:24 World
james_harrison.jpeg

800 एमएल ब्लड डोनेट कर रहे थे जेम्स हर हफ्ते 1200से ज्यादा बार ब्लड डोनेट कर चुके  एजेंसियां, कैनबरा ऑस्ट्रेलिया के रहने वाले जेम्स हैरिसन को अगर असाधारण कहा जाए तो गलत नहीं होगा। इसका कारण है कि वह बीते 60 साल से ब्लड डोनेट कर रहे हैं। रेड क्रॉस ब्लड सर्विस के मुताबिक जेम्स अब तक 24 लाख बच्चों की जान बचा चुके हैं। इसी की वजह से उनके हाथ को 'गोल्डन आर्म' कहा जाता है। ऐसा माना जाता है कि जेम्स हैरिसन अब तक लाखों बच्चों की जान बचा चुके हैं। डॉक्टर के मुताबिक, 81 साल के बुजुर्ग के खून में एक विशेषता पाई जाती है, जो आम लोग में खून में नहीं है।
जेम्स के खून में एक खास तरह की यूनिक एंटीबॉडी मौजूद है। इसे एंटी-डी कहा जाता है। ये एंटी बॉडी गर्भ में पल रहे तमाम बच्चों को ब्रेन डैमेज या दूसरी घातक बीमारी से लड़ने की ताकत देता है। डॉक्टर्स बताते हैं कि बीते 60 साल में जेम्स के ब्लड डोनेशन की वजह से लाखों बच्चों की जान बच सकी। क्योंकि अगर उनका ब्लड नहीं होता तो ये बच्चे गर्भ में ही मर जाते। बुजुर्ग शख्स ने इन वर्षों में 1200 बार ब्लड डोनेट किया है, लेकिन अब डॉक्टर्स ने उन्हें ऐसा करने से मना कर दिया है। जेम्स खून न दे सकने की विवशता पर अब भावुक हो जाते हैं। उनकी वजह से ही 1964 से अब तक करीब 24 लाख बच्चों की जान बचाई जा चुकी है। हालांकि जेम्स ने बताया कि 14 साल की उम्र में ब्लड डोनेशन से ही उनकी जान बची थी बस तभी से ब्लड डोनेट करना शुरू कर दिया।

    मेधज न्यूज़ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

    ...
    loading...

    Similar Post You May Like


    Trends