कोर्ट का ऐतिहासिक फैसला, अब मुस्लिम लड़कियों को लड़को के साथ ही सीखनी होगी स्विमिंग

मेधज न्यूज 11 Jan 17,18:20:30 World
swming.jpg

अब मुस्लिम लड़कियां को दूसरे लड़को के साथ स्विमिंग पूल में स्विमिंग क्लास लेनी ही पड़ेगी। जी हां, यह ऐतिहासिक फैसला है यूरोपियन मानव अधिकार कोर्ट का। मंगलवार को कोर्ट ने यह फैसला सुनाते हुए तुर्क दंपति की याचिका खारिज कर दी।

दरअसल, स्विट्जरलैंड के बैजिल शहर में रहने वाले एक तुर्क मूल के दंपति ने स्कूल में बच्चियों को स्विमिंग पूल में दूसरे लड़को के साथ तैरने के लिए भेजने को उनके धर्म के खिलाफ बताया था।

इसे भी पढ़ें- ‘जन-वेदना’ सम्मेलन में राहुल ने जमकर PM पर साधा निशाना, कहा, ‘अच्छे दिन 2019 में कांग्रेस लाएगी’!

इस दंपति ने यूरोपिय मानव अधिकार कार्ट में यह याचिका दायर की। कोर्ट ने उनकी यह याचिका खारिज करते हुए कहा कि स्विस अधिकारियों का ‘पाठ्यक्रम को लागू कराने’ और बच्चों को समाज में सफलता से घुलने-मिलने के लिए यह फैसला जायज है।

हालांकि, जज ने यह बात भी मानी की ऐसी क्लास को अनिवार्य बनाना धार्मिक स

    मेधज न्यूज़ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

    ...
    loading...

    Similar Post You May Like


    Trends

    Special Story