प. बंगाल: स्कूल की किताब में मिल्खा सिंह की जगह फरहान अख्तर की तस्वीर लगाई

medhaj news 20 Aug 18,20:50:53 World
bhagmilkhabhag.jpg

बॉलीवुड अभिनेता फरहान अख्तर ने पश्चिम बंगाल सरकार को उसकी एक पाठ्य पुस्तक में राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक विजयी धावक मिल्खा सिंह की जगह उनकी तस्वीर प्रकाशित करने संबंधी त्रुटि को सुधारने को कहा है।गौरतलब है कि सोशल मीडिया पर यह तस्वीर सुर्खियों में है। अभिनेता ने इसपर ट्वीट करते हुए कहा-‘पश्चिम बंगाल के स्कूल शिक्षा मंत्री को कहना चाहूंगा कि मिल्खा सिंह जी की तस्वीर को लेकर स्पष्ट त्रुटि हुई है। गौरतलब है कि वर्ष 2013 में आई फिल्म ‘भाग मिल्खा भाग’ में फरहान ने धावक मिल्खा सिंह की भूमिका अदा की थी।

पश्चिम बंगाल सरकार के बांग्ला माध्यम वाले स्कूलों के लिए छपी एक पुस्तक में चर्चित ओलंपियन धावक मिल्खा सिंह से संबंधित एक अध्याय में उनकी जगह फिल्म ‘भाग मिल्खा भाग’ में मिल्खा का किरदार निभाने वाले अभिनेता फरहान अख्तर की तस्वीर छप गई है। खुद अभिनेता ने अपने एक ट्वीट के जरिये राज्य के शिक्षा मंत्री पार्थ चटर्जी और तृणमूल कांग्रेस के राज्यसभा सांसद डेरेक ओ ब्रायन का ध्यान इस गलती की ओर आकर्षित किया है।

फरहान ने एक यूजर लाइफ घोष के इस विषय पर ट्वीट को री-ट्वीट भी किया है। घोष ने अपने ट्वीट में कहा था कि पश्चिम बंगाल की एक पाठ्य पुस्तक में मिल्खा सिंह की जगह फरहान की तस्वीर छपी है। ऐसी गलतियां यहां आम हो गई हैं। फरहान ने शिक्षा मंत्री से इस गलती को तुरंत सुधारने के लिए कहा है। उन्होंने अपने ट्वीट में कहा, ‘क्या मंत्री जी प्रकाशक से तमाम पुस्तकों को वापस लेकर सही तस्वीर के साथ दोबारा छापने को कह सकते हैं।’ उनके ट्वीट को तीन हजार से अधिक लाइक मिल चुके हैं। इस पोस्ट को आठ सौ बार शेयर भी किया जा चुका है।

कई लोगों ने इस बात पर हैरत जताई है कि पुस्तक को छापने से पहले प्रूफ की गलतियों पर ध्यान क्यों नहीं दिया गया। तृणमूल कांग्रेस सांसद और पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता डेरेक ओ ब्रायन ने अपने जवाबी ट्वीट में इस गलती की ओर ध्यान दिलाने के लिए फरहान का आभार जताया है। उन्होंने कहा है कि इस मामले को देखा जा रहा है। आपके सुझाव के लिए धन्यवाद। सांसद ने भी चटर्जी का ध्यान इस ओर दिलाया। चटर्जी से जब संपर्क किया गया तो उन्होंने कहा-इसका सरकार से कोई लेना-देना नहीं है। यह किताब एक निजी प्रकाशक की है। इसके बावजूद जब इसे हमारी नजर में लाया गया है, तो हम प्रकाशक से बात करेंगे और इस गलती को सुधारने की कोशिश करेंगे।

    मेधज न्यूज़ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

    ...
    loading...

    Similar Post You May Like


    Trends