Headline



यूरोपीय संघ और तुर्की के बीच रिश्तों में खटास

Medhaj News 7 Mar 20,21:12:21 World
turki.png

यूरोपीय संघ (EU) और तुर्की (Turky) के बीच रिश्तों में खटास आ गई है | दरअसल यूरोपीय संघ और तुर्की के बीच साल 2016 में सीमित प्रवास को लेकर हुई शरणार्थी संधि अब 'खत्म' हो चुकी है | यूनान के प्रधानमंत्री किरियाकोस मितसोताकिस ने शुक्रवार को ये बात कही | तुर्की के राष्ट्रपति रजब तैयब एर्दोग़ान (Recep Tayyip Erdogan) ने पिछले हफ्ते ही कहा था कि वो अब किसी भी देश के शरणार्थी को नहीं रोकेंगे | उनके इस इस ऐलान के साथ ही बॉर्डर पर शरणार्थियों की भीड़ लग गई है | हर कोई भाग कर यूरोप जाना चाहता है | एर्दोग़ान का तर्क है कि सीरिया में लड़ाई के चलते हज़ारों की संख्या में लोग उनके यहां भाग कर आ रहे हैं | कहा जा रहा है कि लड़ाई के चलते दिसंबर से लेकर अब तक तुर्की के बॉर्डर पर करीब 10 लाख लोग जमा हो गए हैं |





सीरिया के इदलिब में सरकार विरोधी गुट और वहां की सरकार के बीच लगातार एक दूसरे पर हमले हो रहे हैं | बता दें कि तुर्की में पहले से ही सीरिया के करीब 37 लाख शरणार्थी हैं | इसके अलावा यहां अफगानिस्तान के लोग भी हैं | वहीं यूनान ने कहा है कि तुर्की के बॉर्डर खोलने से उनके यहां एक हज़ार से ज्यादा शरणार्थी आ गए हैं | इसके अलावा करीब 10 हज़ार लोगों को बॉर्डर पर रोका गया है | साल 2016 में तुर्की ने यूरोपीय संघ के साथ छह अरब यूरो के बदले शरणार्थियों के पलायन को रोकने के लिए सहमति व्यक्त की थी | दरअसल साल 2015 में यूरोपियन यूनियन ने कहा था उनके यहां करीब 10 लाख शरणार्थी पहुंच गए हैं | यहां पहुंचने की कोशिश में कई लोगों की मौत भी हो गई थी | इसके बाद यूरोपियन यूनियन ने तुर्की के साथ इन्हें रोकने की डील की थी |


    Comments

    • Medhaj News
      Updated - 2020-03-31 18:38:07
      Commented by :cialis daily xs

      this has does generic viagra train been Xepmyhs generic ed drugs buy ed pills


    • Load More

    Leave a comment



    Similar Post You May Like

    Trends