राज्य

गैंगस्टर एक्ट में फरार चल रहे सपा विधायक ने कैराना कोर्ट में किया सरेंडर, सपा के है प्रत्याशी

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए समाजवादी पार्टी ने शामली की कैराना विधानसभा सीट से एक बार फिर नाहिद हसन को अपना उम्‍मीदवार बनाया है। वहीं, आज यानी शनिवार को गैंगस्टर एक्ट में फरार चल रहे सपा विधायक ने कैराना कोर्ट में सरेंडर कर दिया है। यही नहीं, नाहिद हसन के सरेंडर करने के वक्‍त कैराना कोर्ट में भारी पुलिस फोर्स तैनात किया गया। जबकि शुक्रवार को यूपी चुनाव के नामांकन के पहले दिन कैराना विधानसभा सीट से हसन की ओर से उनके प्रतिनिधि ने दो सेट दाखिल किए थे।
बता दें कि नाहिद हसन के खिलाफ पुलिस में कई आपराधिक मामले दर्ज हैं, जिसमें धोखाधड़ी से जमीन खरीदने के अलावा लोगों के जबरतस्‍ती पलायन के लिए मजूबर करने के मामले भी है। यही नहीं, शामली जिले की स्‍पेशल कोर्ट ने गैंगस्टर एक्ट में फरार रहने की वजह से भगोड़ा भी घोषित किया था।
नाहिद हसन कैराना से सपा के विधायक हैं, तो उनकी मां तबस्सुम इसी क्षेत्र से सांसद रह चुकी हैं। वहीं, भाजपा ने नाहिद हसन को दोबारा टिकट दिए जाने को समाजवादी पार्टी का ‘जिन्नावाद’ कहा है।
बता दें कि नाहिद हसन ने लंबे समय तक फरार रहने के बाद जनवरी 2020 में कोर्ट में सरेंडर किया था. यही नहीं, करीब एक महीने तक जेल में रहने के बाद उसे जमानत मिली थी। इसके बाद फरवरी 2021 में यूपी पुलिस ने नाहिद हसन, उनकी मां तबस्सुम और 38 अन्य लोगों पर गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई की थी। इसके बाद एक बार फिर वह फरार हो गए और आज कोर्ट में सरेंडर किया है।
बता दें कि उत्तर प्रदेश की 403 विधानसभा सीटों के लिए सात चरणों में मतदान 10 फरवरी से शुरू होगा। उत्तर प्रदेश में अन्य चरणों में मतदान 14, 20, 23, 27 फरवरी, 3 और 7 मार्च को होगा. वहीं यूपी चुनाव के नतीजे 10 मार्च को आएंगे। 2017 के चुनाव में बीजेपी ने यहां की 403 में से 325 सीटों पर जीत दर्ज की थी। सपा और कांग्रेस ने साथ मिलकर चुनाव लड़ा था। सपा ने 47 और कांग्रेस ने 7 सीटें ही जीती थीं। मायावती की बसपा 19 सीटें जीतने में कामयाब रही थी। वहीं 4 सीटों पर अन्य का कब्जा हुआ था।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button