भारत

झारखंड की तस्वीर बदलेंगी महिलाएं, सरकार ने बनाया Palash Brand

रांची: झारखंड (Jharkhand) सखी मंडल के नाम से बनी स्वयं सहायता समूहों द्वारा बनाये जा रहे विभिन्न उत्पादों को व्यापक बाजार देने के लिए सरकार ने पलाश नामक ब्रांड (Palash Brand) बनाया है और इसके जरिए एक साल के भीतर 15 सौ करोड़ के टर्नओवर का लक्ष्य है। हम महिलाओं को स्वावलंबी बनाने की दिशा में ठोस कदम उठा रहे हैं। यह बात मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन (CM Hemant Soren) ने गढ़वा जिला मुख्यालय में विभिन्न योजनाओं के शिलान्यास-उद्घाटन के बाद जनसभा को संबोधित करते हुए कही। सोरेन ने कहा कि महिलाएं ही झारखंड की तस्वीर बदलेंगी। राज्य सरकार ने सरकारी स्कूलों में बच्चों को सप्ताह में 6 दिन अंडा देने का सरकार ने निर्णय लिया है, लेकिन हमें अंडा बाहर के राज्यों से मंगाना पड़ता है। उन्होंने महिलाओं से सरकारी सहायता योजनाओं के तहत अंडा और मुर्गी उत्पादन जैसे व्यवसाय से जुड़ने की अपील की।

मुख्यमंत्री ने गढ़वा में नये समाहरणालय भवन और बिरसा मुंडा स्मारक-सह-हैलीपैड विकास एवं रिसेप्शन भवन की आधारशिला रखी। उन्होंने शहर के रंका मोड़ पर नवनिर्मित इंदिरा प्रियदर्शनी घंटाघर का उद्घाटन किया और देश की पूर्व प्रधानमंत्री दिवंगत इंदिरा गांधी की प्रतिमा का अनावरण किया।

इस अवसर पर उन्होंने स्नातक प्रशिक्षित 89 शिक्षकों को नियुक्ति पत्र प्रदान किया। इसके अलावा सुकन्या योजना, फूलो झानो आशीर्वाद योजना, दुधारू गाय योजना, यूनिवर्सल पेंशन योजना के लाभुकों के बीच परिसंपत्तियों का वितरण किया। खेल के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य के लिए शैलेंद्र पाठक, ट्रेडिशनल कुश्ती प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक हासिल करने वाली प्रियंका कुमारी , दीपक कुमार और अनु प्रियदर्शी तथा कोरबा भाषा शब्दकोश के रचयिता हीरामन कोरवा को सम्मानित किया गया। इन कार्यक्रमों में राज्य के पेयजल एवं स्वच्छता मंत्री मिथिलेश कुमार ठाकुर, कृषि मंत्री बादल भी उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button