खेल

दीप ग्रेस एक्का : भारतीय महिला हॉकी टीम का एशिया कप में मुकाबला करना जरुरी

नई दिल्ली । भारतीय महिला हॉकी टीम आगामी एशिया कप के लिए ओमान (मस्कट) पहुंच गई है, जो 21 से 28 जनवरी तक सुल्तान काबूस स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स में होने वाला है। 

टूर्नामेंट में चीन, इंडोनेशिया, जापान, मलेशिया, सिंगापुर, दक्षिण कोरिया और थाईलैंड जैसी मजबूत टीमें भाग ले रही हैं, जिसे टीम इंडिया को ओमान में खिताब का बचाव करना आसान नहीं होगा।उपकप्तान के रूप में टीम का नेतृत्व करने वाली दीप ग्रेस एक्का ने टूर्नामेंट के महत्व पर प्रकाश डाला और टीम की तैयारियों के बारे में भी बताया।

एक्का ने यहां जारी एक बयान में कहा, यह हमारे लिए एक नई शुरुआत है। टोक्यो ओलंपिक के बाद यह हमारा पहला पूर्ण टूर्नामेंट होगा। दुर्भाग्य से, हम कोरिया में महिला एशियाई चैंपियंस ट्रॉफी 2021 में केवल एक गेम खेल सके। हमने खेल प्राधिकरण में एक प्रशिक्षण शिविर में अच्छा अभ्यास किया है। हम वास्तव में महिला हॉकी एशिया कप में अपने खिताब की रक्षा करने के लिए उत्साहित हैं।

टूर्नामेंट की शीर्ष चार टीमें स्पेन और नीदरलैंड में होने वाले 2022 एफआईएच महिला हॉकी विश्व कप के लिए क्वालीफाई करेंगी। एफआईएच प्रो लीग मैचों और एशियाई खेलों के साथ 2022 में होने वाले हैं। एक्का का मानना है कि यह टूर्नामेंट टीम के लिए अहम हो सकता है।

उन्होंने कहा, हमारे लिए टूर्नामेंट में अच्छा प्रदर्शन करना महत्वपूर्ण है, क्योंकि यह 2022 में आने वाली चुनौतियों के लिए हमारे लिए गति निर्धारित करेगा। यह हमारे लिए एक व्यस्त शेड्यूल है और हम जितने अधिक खेल खेलेंगे, उतना ही हम परीक्षण करने में सक्षम होंगे।

भारत ने महिला हॉकी विश्व कप 2018 के लिए क्वालीफाई करने के लिए 2017 में महिला हॉकी एशिया कप ट्रॉफी जीती थी, जहां वे नॉकआउट चरणों में पहुंचने में सफल रहे। 2018 में, भारत ने एशियाई खेलों में रजत पदक भी जीता।


Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button