राज्य

भाजपा ने अलीगढ़ से विधायक संजीव राजा की पत्नी मुक्ता राजा को बनाया उम्मीदवार

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव को लेकर जारी राजनीतिक घमासान के बीच भारतीय जनता पार्टी ने एक सीट पर उम्मीदवार के नाम की घोषणा कर दी है। बीजेपी ने यूपी की अलीगढ़ सीट से मुक्ता राजा को अपना उम्मीदवार बनाया है। इससे पहले भाजपा ने मंगलवार को उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए दो उम्मीदवारों की घोषणा की थी। पार्टी ने बहेरी विधानसभा सीट से छत्रपाल सिंह भोजीपुरा विधानसभा सीट से बहोरनलाल मौर्य को मैदान में उतारा है।
शहर विधानसभा क्षेत्र की भाजपा प्रत्याशी मुक्ता राजा की 1991 में संजीव राजा से शादी हुई थी। संजीव राजा छात्र जीवन से आरएसएस एवं एवीबीपी से जुड़े रहे हैं। उनकी राजनीतिक सक्रियता में मुक्ता राजा का हमेशा सहयोग मिला है। 28 मई 1966 में जन्मी मुक्ता राजा ग्रेजुएट हैं। 1981 में हाईस्कूल, 1983 में इंटर एवं 1986 में ग्रेजुएशन की हैं।
जनपद के सात में से छह विधान सभा क्षेत्र के प्रत्याशियों की घोषणा भाजपा द्वारा 15 जनवरी को ही कर दी गई थी। सिर्फ शहर विधानसभा क्षेत्र के प्रत्याशी की घोषणा रह गई थी। थाना बन्नादेवी क्षेत्र के 22 वर्ष पुराने पुलिसकर्मी के साथ मारपीट के मामले में विधायक संजीव राजा को दो साल की सजा सुनाई गई है। इसके खिलाफ संजीव राजा उच्च न्यायालय की शरण में गए हैं। 24 जनवरी को सुनवाई की तिथि मिली थी। 
संजीव राजा के अधिवक्ता द्वारा पहले सुनवाई का आग्रह किया गया था। माना जा रहा है कि उच्च न्यायालय में मामला विचाराधीन होने के कारण शहर विधान सभा क्षेत्र के प्रत्याशी के चयन में देरी हो रही थी। पार्टी द्वारा संजीव राजा की पत्नी मुक्ता राजा को प्रत्याशी घोषित किए जाने के बाद तमाम तरह की चर्चाओं पर विराम लग गया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button