राज्य

योगी सरकार में नकल माफियाओं के भी बुरे दिन, पुलिस ने डुगडुगी बजवाकर कुर्की का नोटिस चस्पा कराया

नीट सॉल्वर गिरोह के आरोपी भगोड़ा डॉ. अफरोज और मुंतजिर के यहां कमिश्नरेट पुलिस ने बुधवार को डुगडुगी बजवाकर कुर्की का नोटिस चस्पा कराया। कमिश्नरेट पुलिस की टीमों ने बलरामपुर जिले के तुलसीपुर थाना क्षेत्र के नई बाजार पुरवा निवासी डॉ. अफरोज और आजमगढ़ के मुबारकपुर थाना सरैया निवासी मुंतजिर के यहां डुगडुगजी बजवाकर हाजिर होने की मुनादी कराई। तय समय पर हाजिर नहीं होने पर संपत्ति कुर्क का नोटिस भी दरवाजे पर चस्पा कराया। कमिश्नरेट पुलिस ने 11 जनवरी को मुंतजिर, डॉ. अफरोज सहित पांच आरोपियों को भगोड़ा घोषित करते हुए उनकी संपत्ति जब्त करने का नोटिस जारी की थी।
पुलिस आयुक्त ए सतीश गणेश ने बताया कि पुलिस टीम ने भगोड़ा घोषित दो आरोपियों के यहां डुगडुगी बजवाकर कुर्की का नोटिस चस्पा कराया। तय समय पर आरोपियों के हाजिर नहीं होने पर संपत्ति कुर्क किया जाएगी। इस दौरान अन्य तीन भगोड़े आरोपी बंगलूरू बगलगुनते थाना अंतर्गत मेन लेख रोड अवनाव न्यू पार्षद बिल्डिंग का रहने वाला आशुतोष राज, त्रिपुरा के गोमती उदयपुर स्थित राधेकिशोरपुर निवासी दिव्य ज्योति नाग, त्रिपुरा गोमती उदयपुर ककराबन थाना अंतर्गत गर्जनमोरा निवासी मृत्युंजय देवनाथ का हाल पता बरदोवाली मिलन सादा थाना एडी नगर अगरतला पश्चिम त्रिपुरा है।
इन सभी को भगोड़ा घोषित करते हुए न्यायालय ने संपत्ति जब्त करने का नोटिस जारी किया गया है। पुलिस टीमें इनके यहां भी पहुंच मुनादी कराकर कुर्की की कार्रवाई का चेतावनी नोटिस चस्पा कराएगी। 12 सितंबर 2021 को सारनाथ स्थित परीक्षा केंद्र पर नीट सॉल्वर गैंग की सदस्य जूली कुमारी और परीक्षा केंद्र के बाहर उसकी मां बबिता कुमारी को गिरफ्तार करते हुए कमिश्नरेट पुलिस ने गैंग का खुलासा किया था। इसके बाद पटना निवासी मास्टरमाइंड पीके, पटना सचिवालय में लिपिक उसके बहनोई रितेश कुमार सहित 15 आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है।
पुलिस आयुक्त ए सतीश गणेश ने बताया कि वांछित मृत्युंजय देबनाथ, दिव्य ज्योति नाग उर्फ देबू, आशुतोष राज, मुन्तजिर, डॉ अफ़रोज, प्रवीण, प्रमोद, हामिद रजा, साइबर कैफे संचालक कोटा, पीयूष, चंदन, संजीव, पटना निवासी डॉ गणेश, डॉ गुरु प्रसाद, छपरा की चिकित्सक डॉ प्रिया, प्रदीप्तो भौमिक, अंकुर, देवी प्रसाद राय उर्फ यश, सुरेंद्र प्रताप सिंह और पंकज शर्मा की गिरफ्तारी को दबिश दी जा रही है। पिछले हफ्ते लखनऊ निवासी डॉ. ओमप्रकाश को सारनाथ पुलिस ने गिरफ्तार किया था।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button