सेहत और स्वास्थ्य

संक्रमण के बारे में जानकारी देगी नई किट, 45 मिनट में आएगा रिजल्ट

अब कोरोना वायरस के अलावा इसके वेरिएंट की पुष्टि मात्र 45 मिनट में हो सकेगी। आईसीएमआर ने ऐसी एक टेस्ट किट को मंजूरी दे दी है। चेन्नई स्थित एक कम्पनी द्वारा निर्मित इस आरटी-पीसीआर टेस्ट किट को डेल्टा, ओमिक्रोन और कोरोना वायरस के अन्य वेरिएंट्स की पहचान करने में सक्षम बताया जा रहा है और इस टेस्ट के परिणाम केवल 45 मिनट के भीतर प्राप्त हो सकते हैं। इस टेस्ट किट का नाम केआरआईवीआईडीएम नोवास आरटी-पीसीआर किट है।

कोविड के वेरिएंट की हो सकती है पहचान

गौरतलब है कि कोरोना संक्रमण किस वेरिएंट से हुआ है इसकी पुष्टि करने के लिए फिलहाल जीनोम सीक्वेंसिंग प्रक्रिया की मदद ली जाती है। लेकिन, इस किट के बारे में दावा किया जा रहा है कि इससे टेस्टिंग के बाद जीनोम सीक्वेंसिंग रिपोर्ट का इंतजार नहीं करना पड़ेगा और रिजल्ट्स केवल 45 मिनट्स में प्राप्त हो सकेंगे।  बता दें कि इस किट का निर्माण इम्यूजेनिंक्स बायोसाइंस नामक फार्मा कम्पनी के सहयोग से किया गया है।

किट के बारे में मीडिया से बात करते हुए इस किट के प्रमुख शोधकर्ता डॉ.नवीन कुमार वेंकटेशन ने कहा कि “फिलहाल कोविड-19 संक्रमित पाए जाने वाले लोगों के नमूनों की जांच जीनोम सीक्वेंसिंग के जरिए की जा रही है और उसी की मदद से पता लगाया जा रहा है कि मरीज कोरोना वायरस के कौन-से वेरिएंट से संक्रमित है।  लेकिन, ये  किट एक जीन टारगेट फेलियर स्ट्रेटजी और ओमिक्रोन से जुड़ी सूक्ष्म जानकारियों के आधार पर वेरिएंट का पता लगा लेती है। यह किट ओमिक्रोन वेरिएंट और इससे जुड़े सभी स्ट्रेन्स का पता लग सकता है।”

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button