सीएम योगी आदित्यनाथ का ऐलान, गणतंत्र दिवस पर जेल में बंद कैदियों को किया जाएगा रिहा

गणतंत्र दिवस से पूर्व उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने बड़ा फैसला किया है। सरकार ने राज्य की जेलों में बंद 100 कैदियों को रिहा करने का फैसला किया है। सरकार उन बंदियों को रिहा करेगी जिनका आचरण अच्छा रहा है। इसके अलावा वृद्ध और गंभीर बीमारी से पीड़ित कुल 100 कैदियों को रिहा किया जाएगा।

बता दें कि सरकार ने जेल मुख्यालय से भेजे गए इन कैदियों की फाइलों की जांच की है। इसके बाद सरकार अगली बैठक में सभी चुने गए कैदियों की लिस्ट राज्यपाल को भेजेगी।


इन कैदियों की रिहाई पर अंतिम फैसला राज्यपाल द्वारा लिया जाएगा। हालांकि राज्य में विधानसभा चुनावों के मद्देनजर आचार संहिता लागू है। ऐसे में सरकार निर्वाचन आयोग से इजाजत लेने पर भी विचार कर रही है।

इन जेलों के बंदी होंगे रिहा

ये बंदी राजधानी लखनऊ की आदर्श जेल, नारी बन्दी निकेतन के साथ साथ वाराणसी, बरेली, आगरा, फतेहगढ़ तथा नैनी सेंट्रल जेल के साथी ही जिला जेल के बंदी रिहाई के पात्र होंगे। डीजी कारागार आनन्द कुमार ने आजादी के पात्र कैदियों का ब्यौरा शासन को भेज दिया है।

Exit mobile version