27 लाख फॉर्म भरवाने वाली सपा हजार घर भी गरीबों को न दे पाई: डॉ दिनेश शर्मा

केन्द्रीय बजट गरीब, किसान, मज़दूर,नौजवान,महिला सशक्तीकरण के लिए क्रान्तिकारी बजट है। इस बजट से उत्‍तरप्रदेश को ढेर सारा लाभ मिलेगा। इस बजट में महिलाओं, किसानों और युवाओं के सशक्तीकरण पर सर्वाधिक जोर दिया गया है। ये बातें मंगलवार को उपमुख्‍यमंत्री डॉ दिनेश शर्मा ने कहीं। उन्‍होंने कहा कि ये बजट डिजिटल इंडिया का दर्पण है ये सामान्‍य जीवन को सरल सुगम बनाने में सहायक होगा। इस बजट का सबसे ज्‍यादा लाभ डबल इंजन की सरकार में यूपी को मिलेगा। महिलाओं को सुरक्षा सम्‍मान, किसानों की आमदनी बढ़ाने में, शिक्षा के प्रसार में, युवाओं को रोजगार देने में ये बजट कारगर साबित होगा।
उन्‍होंने कहा कि यूपी में साल 2017 में जो अर्थव्‍यवस्‍था 11 लाख करोड़ थी आज वो 22 लाख करोड़ की अर्थव्‍यवस्‍था बन गई है। डिजिटल युग में 5 जी की लॉन्चिंग को घोषणा एक क्रांतिकारी कदम है। सरकार की प्राथमिकता गांवों, कस्बों तक के लोगों को इंटरनेट से जोड़ने की है। आज बजट में ड्रोन के जरिए सिंचाई को बढ़ावा देने के साथ ही कृषि उपकरण सस्ते होने से यूपी के किसानों को लाभ मिलेगा। वित्त मंत्री महोदया ने वर्ष 2022-23 में 3.8 करोड़ घरों को हर घर नल से जल योजना से जोडने का संकल्प लिया है। इसके लिए 60,000 करोड़ रुपए जारी किए गए हैं। आज बुंदेलखंड और विंध्य क्षेत्र की जनता सर्वाधिक प्रसन्न होगी। इस योजना से अब तक सर्वाधिक लाभ उत्तर प्रदेश को हुआ है।
उन्‍होंने सपा पर जमकर हमला बोलते हुए कहा कि साल 2012 में सपा ने गरीबों को घर का झूठा सपना दिखाते हुए पर्चे भरवाए थे। सपा ने 27 लाख फॉर्म भरवाए थे पर सरकार बनने के बाद कुछ हजार भी न दे पाए। पर हमारी सरकार ने साल 2017 से अब तक 45 लाख गरीबों के घर का सपना पूरा हुआ है। सामाजिक न्याय के संकल्प को पूरा करते हुए बजट में एक बार फिर ‘अपना घर का सपना’ पूरा करने की घोषणा की गई है। सरकार एक साल में 80 लाख घर देश में देने की घोषणा की गई है इसका लाभ यूपी के गरीबों और वंचितों को भी होगा। उन्‍होंने कहा कि सपा सरकार में गढ्ढों में सड़के हुआ करती थी वहां आज यूपी में पांच-पांच एक्‍सप्रेसवे वाला प्रदेश है।
Exit mobile version