दुनिया

दक्षिण चीन सागर में एक बार फिर आमने-सामने आए चीन व अमेरिका के विमान, और बढ़ेगा विवाद

अमेरिका के इंडो पैसिफिक कमांड की तरफ से जानकारी दी गई कि 26 मई को दक्षिण चीन सागर के ऊपर अंतर्राष्ट्रीय एयरस्पेस में अमेरिका के विमान के ठीक सामने से चीन का लड़ाकू विमान गुजरा जिसकी वजह से अमेरिका के विमान के कॉकपिट में हलचल हुई थी।

अमेरिकी विमान के सामने चीनी विमान की वजह से आया टर्बुलेन्स

अमेरिकी सैन्य कमांडर की तरफ से बताया गया कि अमेरिकी आरसी-135 जासूसी विमान के सामने चीनी जे-16 विमान के आ जाने से अमेरिकी विमान में टर्बुलेन्स आ गया और दुर्घटना होते होते बची, इस घटना का वीडियो अमेरिका के इंडो पैसिफिक कमांड के ट्विटर हैंडल की तरफ से शेयर किया गया।

क्या कहा अमेरिका ने
इस घटना के बाद अमेरिका के रक्षा विभाग पेंटागन की तरफ से कहा गया कि हम पूरी तरह से सुरक्षित हैं तथा अंतर्राष्ट्रीय नियमो के अनुसार जहाँ भी उड़ान की इजाजत होगी हम वहां बड़ी जिम्मेदारी से उड़ानों का संचालन जारी रखेंगे।

चीन की तरफ से नहीं आया कोई बयान
चीन की तरफ से कोई आधिकारिक बयान तो नहीं आया है लेकिन अमेरिका स्थित चीनी दूतावास के प्रवक्ता लियू पेंग्यू की तरफ से कहा गया कि चीन की निगरानी करने के लिए US अपने जासूसी विमानों को तैनात करता है, यह चीन की सुरक्षा के लिए बढ़ा खतरा है इसके अतिरक्त वह चीन पर दोषारोपण भी करता है।

फरवरी में भी आमने-सामने आ गए थे अमेरिका चीन के विमान
इससे पहल 25 फरवरी को अमेरिका के पी-8 पोसेडियां विमान दक्षिण चीन सागर के ऊपर उड़ रहा था उसी समय मिसाइलों से लैस चीनी विमान लगभग 150 मीटर तक पास आ गया था, चीनी वायुसेना की तरफ से धमकी मिलने के बाद अमेरिकी विमान वापस लौट गया था।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button