advy_govt

स्लोगन की दिलचस्प कहानी,एक आर्य की जुबानी

Medhaj News 28 Dec 20 , 18:26:41 Ajab Gajab Viewed : 1771 Times
2018_9image_17_00_200658150sss_ll.jpg

स्लोगन ,किसी भी उत्पाद को ही नही ,राजनीति को भी बदल सकता है,

उदाहरण, आएगा मोदी ही, मोदी है तो मुमकिन है।

अगर ऐसे ही स्लोगन बाकी लोग भी रखें तो कैसा होगा ।  आइये  जाने                            

सैलून की दुकान का स्लोगन-

हम भी बोझ कम करते हैं , दिल का नही , सिर का।

लाइट क़ी दुकान का-

आपके दिमाग की बत्ती भले ही जले या ना जले,परंतु हमारा बल्ब ज़रूर जलेगा ।

चाय की दुकान का-

मैं भले ही साधारण हूँ, पर चाय स्पेशल बनाता हूँ।

रेस्टोरेंट का-

यहाँ घऱ जैसा खाना नहीं मिलता, आप निश्चिंत होकर अंदर पधारें।

इलेक्ट्रॉनिक दुकान का-

अगर आपका कोई फैन नहीं है तो यहाँ से ले जाइए ।

गोलगप्पे के ठेले का-

गोलगप्पे खाने के लिए दिल बड़ा हो ना हो, मुँह बड़ा रखें, पूरा खोलें।

फल की दुकान का-

आप तो बस पैसे दें, फल हम दे देंगे ।

घड़ी की दुकान का-

भागते हुए समय को बस में रखें, चाहे दीवार पर टांगें, चाहे हाथ पर बांधें।

ज्योतिषी का-

मात्र 101 रुपए में अपनी ज़िंदगी के आने वाले एपिसोड जाने ।

बालों के तेल क़ी कंपनी का-

भगवान ही नहीं, हम भी बाल बाल बचाते हैं।                     

------------   एक आर्य   ---------------------



 


    2
    0

    Comments

    • Ok

      Commented by :Sirajuddin Ansari
      29-12-2020 09:29:39

    • Ok

      Commented by :Aslam
      28-12-2020 21:41:00

    • superb

      Commented by :Ajay kushawaha
      28-12-2020 18:33:53

    • Load More

    Leave a comment



    Similar Post You May Like

    advt_govt

    Trends

    Special Story