नाक में सरसों का तेल लगाने से आप काफी हद तक कोरोना से बच पाएंगे

Mustard oil

कोरोना महामारी में हर कोई बेहाल है। इसमें तमाम लोग लापरवाही भी बरत रहे हैं, जो बहुत ही घातक साबित हो रही है। ऐसे में अगर आपको संक्रमण से बचना है तो बस एक छोटा सा, सस्ता एवं भारतीय पारंपिरक नुस्खा अपनाना होगा। इसके कारण से आप काफी हद तक कोरोना से बच पाएंगे। बस आपको नाक में सरसों का तेल लगाना है। चिकित्सा विज्ञान संस्थान, बीएचयू आयुर्वेद संकाय के कार्यवाहक डीन प्रो. केएन द्विवेदी बताते हैं कि सरसों को तेल सूक्ष्म वायरस के जीवन चक्र को बाधित करता है। इससे वायरस का मल्टी प्लीकेशन रूक जाता है। इसलिए नाक के अंदर सरसों का तेल लगाकर तेज सांस खींचें, जिससे तेल नाक के भीतर तक चला जाए। ऐसा दोनों नासारंध्रों से यह करें।

आयुष मंत्रालय के आयुष क्वाथ का मानकीकरण करने वाले प्रो. द्विवेदी बाते हैं कि सरसों तेल में इसेंशियल ऑयल्स होते हैं, जो दालचीनी से 10 गुना अधिक वायरस रोधक सक्षम होते हैं। इसके तत्व फंगश प्रतिरोधक, वायरस प्रतिरोधक भी है। सरसों का तेल वायरस को शरीर में घुसने से रोकने में सहायक माना जाता  हैं। प्रो. द्विवेदी ने बताया कि घर से निकलते समय नाक में सरसों का तेल जरूर लगाना चाहिए। इसके अलावा इस तेल में मोनो अन सेचुरेटेड फैटी एसिड होते हैं, जिसके कारण इससे बनाया भोजन किया जाएं तो हृदय रोग से भी बचाव करते है। साथ ही इनमें फंगस प्रतिरोधक, वायरस प्रतिरोधक, शोथहर (एंटी इन्फ्लेमटरी) गुण होते हैं। इसके अलावा विटामिन ई की भी प्रचुर मात्रा में होती है।
 

Share this story