पंजाब में जहरीली शराब से अब तक 121 मौतें, हुई सीबीआई जांच की मांग

12 Aug 20 , 15:38:57 India Viewed : 1821 Times
5.PNG

पंजाब के अमृतसर, तरन तारन, गुरदासपुर समेत कई जिलों में जहरीली शराब ने 121 से ज्यादा लोगों की जान ले ली। मंगलवार को कांग्रेस के राज्यसभा सांसद शमशेर सिंह दूलो ने पीड़ित परिवारों से मुलाकात की और अपनी ही पार्टी समेत सीएम अमरिंदर सिंह पर जमकर बरसे। इस मामले में कांग्रेस के राज्यसभा सदस्य शमशेर सिंह दूलो ने अपनी ही पार्टी पर गंभीर आरोप लगाए हैं। उन्होंने अपनी ही पार्टी के कुछ लोगों पर शराब माफिया के साथ हाथ मिलाने का आरोप लगाया है। वह मंगलवार को मुछाल गांव पहुंचे थे और यहां जहरीली शराब से मरने वाले लोगों के परिवार से मुलाकात की। पंजाब के पूर्व कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने पीड़ित परिवारों से मुलाकात करने के बाद मीडिया से बात की। उन्होंने कहा, 'पुलिस सिर्फ छोटे शराब विक्रेताओं को पकड़ रही है। जिन्हें एक पाउच पर सिर्फ 2 से 5 रुपये से बचत होती है। जबकि इस घटना में जहरीली शराब का बड़ा कारोबार शामिल है। जहरीली शराब का कारोबार करने वाला किंगपिन ट्रेड से जुड़ा है।'

सीबीआई जांच की मांग - दूलो कांग्रेस के दूसरे ऐसे राज्यसभा सांसद हैं जिन्होंने इस घटा में सीबीआई जांच की मांग की है। इससे पहले कांग्रेस के राज्यसभा सांसद प्रताप सिंह बाजवा ने राज्य के गवर्नर से मुलाकात करके सीबीआई जांच की मांग की थी।

'अकालियों की तरह कांग्रेस राज्य को लूट रही' - सांसद ने आरोप लगाया है कि जो लोग सत्ता में हैं वह अपने पावर से पुलिस और आबकारी विभाग का प्रयोग कर रहे हैं। पहली दस वर्षों तक अकालियों ने राज्य को लूटा और अब कांग्रेस भी उसी तर्ज पर काम कर रही है।

सीएम अमरिंदर सिंह को निशाने पर लिया - दूलो राज्य के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिदर सिंह पर भी जमकर बरसे। उन्होंने आरोप लगाया कि अमरिंदर सिंह अपने ही मंत्रियों और विधायकों से नहीं मिलते तो वह आम जनता से क्या मिलेंगे? उन्होंने सीएम को जमकर खरी-खोटी सुनाई।

'सरकार कसती नकेल तो नहीं होती त्रासदी' - कांग्रेस सांसद ने कहा कि अगर सरकार समय रहते शराब तस्करों को नकेल कसती तो इस त्रासदी को रोका जा सकता था। लेकिन सरकार ने ऐसा नहीं किया। सभी इलाकों में नशा सरकार की शह और पुलिस के सहयोग से बिक रहा है। पहले चिट्टा खुलेआम बिकता था और अब नशे की गोलियां और शराब गांव-गांव बिक रही हैं।

2 डीएसपी, 4 एसएचओ और 7 आबकारी अधिकारी सस्पेंड - इस मामले में कार्रवाई करते हुए 2 डीएसपी और 4 एसएचओ के साथ 7 आबकारी अधिकारियों को निलंबित कर जांच के आदेश दे दिए गए हैं। इसके साथ ही सीएम ने शराब कांड में मरने वालों के परिवार को 2 लाख रुपये की सहायता राशि देने की घोषणा की है। जहरीली शराब कांड में अब तक 40 से ज्यादा लोग गिरफ्तार किए जा चुके हैं। 8000 लीटर से ज्यादा केमिकल और सवा लाख लीटर से ज्यादा देसी शराब बरामद की जा चुकी है।


    5
    0

    Comments

    • So sad

      Commented by :Sandeep kumar yadav
      12-08-2020 23:13:23

    • Gov had to take action

      Commented by :Aditya Yadav
      12-08-2020 17:58:19

    • So sad

      Commented by :Akhilesh Kumar Yadav
      12-08-2020 17:36:54

    • Sad news

      Commented by :Amit Kumar
      12-08-2020 16:01:04

    • Load More

    Leave a comment



    Similar Post You May Like

    Trends

    Special Story