इस साल भक्तों में अष्टमी और नवमी की तिथि को लेकर संशय की स्थिति

Medhaj news 23 Oct 20 , 23:36:51 India Viewed : 2237 Times
mata.jpg

हिन्दू धर्म में शारदीय नवरात्रि (Navratri) का बेहद महत्व है | भारत के अलग-अलग राज्यों में नवरात्रि के 9 दिनों को काफी हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है | इस दौरान नौ दिनों तक देवी की आराधना कर उन्हें उनका पसंदीदा प्रसाद चढ़ाकर उन्हें प्रसन्न किया जाता है | इस साल भक्तों में अष्टमी और नवमी की तिथि को लेकर संशय की स्थिति है | मुहूर्त दो दिनों का होने से किसी को समझ में नहीं आ रहा है कि वे व्रत किस दिन करें और पूजन किस दिन | कल यानी 24 अक्टूबर, शनिवार को महाअष्टमी का व्रत रखा जाएगा | जानिए अष्टमी, नवमी व दशहरा का मुहूर्त | 

महाअष्टमी का मुहूर्त- 23 अक्टूबर को सुबह 06.58 बजे से 24 अक्टूबर, शनिवार को 7 बजकर 1 मिनट तक | उदया तिथि होने की वजह से अष्टमी शनिवार को ही मनाई जाएगी | 

नवमी का मुहूर्त- 24 अक्टूबर को अष्टमी खत्म होते ही नवमी लग जाएगी, जो कि 25 अक्टूबर को सुबह 7.44 मिनट तक रहेगी | उदया तिथि के अनुसार नवमी की पूजा 25 अक्टूबर को की जाएगी |

दशहरा का मुहूर्त- 25 अक्टूबर को 11 बजे के बाद दशमी तिथि लग जाएगी और इसी दिन दशहरा मनाया जाएगा | 

हालांकि मुहूर्त के हिसाब से कई लोग अष्टमी और नवमी एक साथ भी मना रहे हैं | 

व्रत का मुहूर्त दो दिन होने से लोगों में संशय की स्थिति बनना आम बात है | कई बार मुहूर्त राज्य व क्षेत्र विशेष भी होता है, यानी लोग अपने-अपने क्षेत्र में प्रचलित मुहूर्त के हिसाब से पूजन करते हैं | ऐसे में आप अपने पंडित जी या घर के आस-पास स्थित किसी मंदिर के पुजारी से सलाह-मशविरा कर भी व्रत व कन्य पूजन की तिथि नियत कर सकते हैं | 


    9
    0

    Comments

    • Happy durga puja

      Commented by :Bal Gangadhar Tilak
      24-10-2020 17:34:39

    • जय माता दी

      Commented by :Ambrish Mishra
      24-10-2020 09:20:35

    • Ok

      Commented by :Ajay Kumar Azad
      24-10-2020 09:13:59

    • OK

      Commented by :Ravishankar Srivastava
      24-10-2020 07:51:15

    • Load More

    Leave a comment



    Similar Post You May Like

    Trends

    Special Story