मनोरंजन

बर्थडे स्पेशल – रॉकी से लेकर मुन्नाभाई , कुछ यूँ रहा संजय दत्त का फ़िल्मी सफर

मुन्ना भाई यानी संजय दत्त का  जीवन  काफी उतार चढाव से भरपूर रहा है।  माँ के दुनिया को अलविदा कहना , जेल जाना , ड्रग्स की लत लगना ये कोई फ़िल्मी बाते नहीं है , संजय दत्त ने अपने जीवन में ये सारे उतार चढ़ाव देखे है। संजय दत्त का जीवन संघर्षो और कंट्रोवर्सी से भरा हुआ है।   आज उनके जन्मदिन के मौके पर जानते है उनसे ही जुडी कुछ ख़ास बाते –

कुछ यूँ रहा निजी जीवन

* 29 जुलाई 1959  को मुंबई  में हुआ था संजय दत्त का जन्म। शायद ही आपको पता हो की संजय का पूरा नाम संजय बलराज दत्त है।

* संजय के पिता – लोकप्रिय अभिनेता और पॉलिटिशियन  सुनील दत्त थे , वही उनकी माँ नरगिस दत्त का नाम बॉलीवुड की टॉप एक्ट्रेस में शामिल था।

* संजय दत्त के जीवन का सबसे कठिन समय था जब उनकी माँ ने दुनिया को अलविदा कह दिया था , नरगिस दत्त की मृत्यु कैंसर के कारण  हुई थी।  वह लम्बे समय  से बीमार चल रही थी।  संजय दत्त की उम्र महज 22 साल थी जब उनकी माँ ने दुनिया को अलविदा कहा था।  उनकी मौत से संजय सदमे में चले गए थे। 

*  उन्हें ड्रग की ऐसी लत लगी की उससे बाहर आना संजू के लिए एक बड़ा चैलेंज हो गया।

* संजय दत्त के ऊपर, आतंकवादी हमले और मुंबई ब्लास्ट में शामिल होने का भी आरोप लग चुका है जिसके कारण उन्हें जेल भी जाना पड़ा।

* संजय दत्त अपने जीवन में 3  शादी कर चुके है , उनकी पहली शादी ऋचा शर्मा से हुई थी दोनों की एक बेटी त्रिशला है , त्रिशला विदेश में ही रहती है।  ऋचा की मौत के बाद संजय दत्त ने अभनेत्री रिया पिल्लई  से दूसरी  शादी की , फिल्मों की शूटिंग की वजह से वह रिया को टाइम नहीं दे पाते थे. ऐसे में दोनों के बीच दूरिया बढ़ती चली गईं. मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो दोनों के बीच बढ़ती दूरियों की वजह फिल्म की शूटिंग नहीं थी, रिपोर्ट्स के अनुसार, रिया पिल्लई संजय दत्त की दूरी की वजह देश के मशहूर टेनिस प्लेयर लिएंडर पेस और डांसर नादिया दुर्रानी थे, संजय दत्त भी शादीशुदा होते हुए भी डांसर नादिया दुर्रानी को डेट करने लगे थे, तो वहीं रिया का नाम लिएंडर पेस संग जोड़ा जा रहा था, बाद में संजय दत्त की वाइफ ने उन्हें तलाक देकर लिएंडर पेस शादी रचा लगी. हालांकि ये शादी भी जल्द ही टूट गई, इसके बाद संजय दत्त ने  2008 में मान्यता से शादी कर ली, 21 अक्टूबर 2010 को मान्यता दत्त ने दो जुड़वा बच्चों को जन्म दिया जिनका नाम इकारा और शहरां  है। 

रॉकी से मुन्ना भाई तक का फ़िल्मी सफर

* 1991 में फिल्म रॉकी में संजय दत्त ने अपनी फ़िल्मी जीवन को शुरू किया। यही वो फिल्म थी जिसका संजय की माँ को बेसब्री से इंतज़ार था , लेकिन कोई नहीं जनता था की बेटे की पहली फिल्म भी नरगिस नहीं देख पाएंगी।  फिल्म को दर्शको ने खूब पसंद किया और संजय दत्त रातो रात स्टार बन गए। 

* संजय दत्त को फिल्म खलनायक में उनकी नकाररत्मक भूमिका के लिए काफी पसंद किया गया। 

* सफल फिल्मे – वास्तव ,मुन्ना भाई एम बी बी एस, लगे रहो मुन्ना भाई , साजन  , खलनायक, रॉकी, दुश्मन, अग्निपथ समेत कई हिट फिल्मे इनकी झोली में है।

* किरदार चाहे नेगेटिव हो या संजीदा या फिर कोई हास्य किरदार , हर किरदार में संजय दत्त्त को लोगो ने दिल से अपनाया है। 

 

Read more….इंसान हूँ गाली नहीं’ , रिलीज़ हुआ टीज़र

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button