कोरोना वायरस के खौफ से लोग ट्रेनों में टिकट बुक कराने से कतरा रहे

Medhaj news 4 Apr 20 , 06:01:40 Business & Economy Viewed : 7 Times
train_15.png

कोरोना वायरस के संक्रमण को लेकर लोगों में इस कदर भय है कि वह ट्रेनों के सफर से कतरा रहे हैं। आम दिनों में जिन ट्रेनों में टिकटों की मारामारी रहती थी उनमें पूरे महीने रोजाना सैकड़ों सीटें खाली हैं। यहां तक एसी एक्सप्रेस, लोकमान्य तिलक और चंडीगढ़ एक्सप्रेस जैसी ट्रेनों के हर क्लास में आसानी से कंफर्म टिकट मिल रहे हैं। शुक्रवार शाम तक प्रमुख ट्रेनों में हजारों सीटें खाली होने से लोगों के डर को आसानी से समझा जा सकता है। लॉकडाउन के दौरान ट्रेन संचालन बंद है, लेकिन मालगाड़ियां पटरियों पर दौड़ रही हैं। इसके साथ ही रेलवे के इंजिनियरिंग विभाग के कर्मचारी ट्रैक मेनटेनेंस में जुटे हैं। सीनियर डीसीएम जगतोष शुक्ल के अनुसार काम के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ध्यान रखा जा रहा है। वहीं, अल्ट्रासॉनिक रेल टेस्टिंग सहित कई अन्य काम भी चल रहे हैं।






  • शताब्दी एक्सप्रेस में 15 अप्रैल को एसी चेयरकार में 778, एग्जिक्यूटिव क्लास में 14 और अनुभूति क्लास में 24 सीटें खाली हैं। इसी तरह 16, 17, 18, 19 व उसके बाद पूरे महीने इसी तरह रोजाना सैकड़ों सीटें खाली हैं।

  • गोमती एक्सप्रेस में 15 अप्रैल को टू एस में 1019, एसी चेयरकार में 32, सेकंड एसी में 9 और फर्स्ट एसी में 3 सीटें खाली हैं। इसके बाद पूरे महीने रोजाना 1200 से 1400 तक सीटें खाली हैं।

  • एसी एक्सप्रेस में 15 अप्रैल को एसी एक्सप्रेस के थर्ड एसी में 56, सेकंड एसी में 91 और फर्स्ट एसी में तीन सीटें खाली हैं। इसके बाद पूरे महीने इस ट्रेन के सभी दर्जों में कंफर्म टिकट आसानी से मिल रहे हैं।

  • राज्यरानी एक्सप्रेस में इस ट्रेन से मेरठ जाने वालों को टू एस व एसी चेयरकार में 15 अप्रैल से लेकर पूरे अप्रैल भर रोजाना कंफर्म टिकट मिल रहे हैं। नॉन एसी व एसी दोनो तरह के कोचों में सैकड़ों सीटें खाली हैं।

  • तेजस एक्सप्रेस में इस ट्रेन में 15 अप्रैल को एसी चेयरकार में 379 व एग्जिक्यूटिव क्लास में 30 सीटें खाली हैं। इसके साथ ही पूरे महीने रोजाना सैकड़ों सीटें खाली चल रही हैं।

  • चित्रकूट एक्सप्रेस में 15 अप्रैल को जनरल कोटे में स्लीपर क्लास में 27 सीटें खाली हैं। जबकि थर्ड एसी, सेकंड एसी व फर्स्ट एसी में आरएसी चल रही है। इसके बाद 16 अप्रैल से लेकर पूरे महीने सभी दर्जों में सैकड़ों शायिकाएं खाली चल रही हैं।

  • कृषक एक्सप्रेस में  गोरखपुर, गोंडा व वाराणसी जाने वालों को इस ट्रेन में पूरे महीने कंफर्म टिकट मिल रहे हैँ। स्लीपर क्लास तक में रोजाना 100-150 सीटें खाली हैं।

  • चंडीगढ़ एक्सप्रेस में 15 अप्रैल से लेकर पूरे महीने सभी दर्जों में कंफर्म टिकट मिल रहे हैं। जबकि आम दिनों में टिकट के लिए मारामारी रहती है।

  • लोकमान्य तिलक एक्सप्रेस में स्लीपर क्लास में सैकड़ों सीटें खाली हैं। जबकि सेकंड एसी व थर्ड एसी में वेटिंग 8 तक भी नहीं है।

  • पुष्पक एक्सप्रेस में आमदिनों 400-500 तक वेटिंग होती थी लेकिन 15 से 30 अप्रैल तक सभी दर्जों की कुल वेटिंग 100 से भी कम है। जबकि करीब 300 सीटें तत्काल कोटे की हैं। अगर उनमें बुकिंग न हुई तो वह भी वेटिंग के पैसेंजर्स को मिलेंगी।

  • लखनऊ मेल में 15 अप्रैल को स्लीपर क्लास में 30 वेटिंग है। जबकि फर्स्ट एसी, सेकंड एसी व थर्ड एसी में अभी कंफर्म टिकट मिल रहे हैं। इसके बाद पूरे महीने इस ट्रेन में किसी भी तारीख का कंफर्म टिकट लिया जा सकता है।



इस बीच सरकारी एयरलाइन्स ने 30 अप्रैल तक उड़ानों के लिए टिकटों की बुकिंग बंद कर दी है। एयर इंडिया ने शुक्रवार को बयान जारी कर बताया कि शुक्रवार से लेकर 30 अप्रैल तक तमाम डॉमेस्टिक तथा इंटरनैशनल रूट्स पर बुकिंग को बंद कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि 14 अप्रैल के बाद की बुकिंग के लिए वे सरकार के फैसले का इंतजार कर रहे हैं। एयरलाइंस के इस बयान से लॉकडाउन को आगे बढ़ाए जाने की आशंकाको बल मिला है। माना जा रहा है कि सरकार कोरोना को लेकर मौजूदा हालात को देखते हुए लॉकडाउन की अवधि को बढ़ा सकती है।


    0
    0

    Comments

    Leave a comment



    Similar Post You May Like

    Trends

    Special Story