RBI ने क्यों इस सहकारी बैंक से पैसे निकालने पर लगाई रोक

Medhaj News 18 Nov 20 , 09:47:34 Business & Economy Viewed : 751 Times
RBI_cuts_major_reverse_repo.jpg

मंता कोऑपरेटिव बैंक अब बैंक आरबीआई की अनुमति के बिना कोई कर्ज या उधार नहीं दे सकेगा और न ही पुराने कर्जों का नवीनीकरण तथा कोई निवेश कर सकेगा। पाबंदियां 17 नवंबर 2020 को बैंक बंद होने के बाद से छह माह तक प्रभावी होंगी।

हाइलाइट्स:

1 - आरबीआई ने महाराष्ट्र के मंता अर्बन कोऑपरेटिव बैंक पर पैसों के भुगतान और कर्ज के लेनदेन को लेकर छह माह के लिए पाबंदी लगा दी है।

2 - यह बैंक आरबीआई की अनुमति के बिना कोई कर्ज या उधार नहीं दे सकेगा और न ही पुराने कर्जों का नवीनीकरण तथा कोई निवेश कर सकेगा।

3 - मंगलवार को ही केंद्र सरकार ने तमिलनाडु के प्राइवेट सेक्‍टर के लक्ष्‍मी विलास बैंक पर एक महीने के लिए कई तरह की पाबंदियां लगाई हैं।

भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने महाराष्ट्र के जालना जिले में मंता अर्बन कोऑपरेटिव बैंक पर पैसों के भुगतान और कर्ज के लेनदेन को लेकर छह माह के लिए पाबंदी लगा दी है। मंगलवार को ही केंद्र सरकार ने तमिलनाडु के प्राइवेट सेक्‍टर के लक्ष्‍मी विलास बैंक पर एक महीने के लिए कई तरह की पाबंदियां लगाई हैं।

मंता अर्बन कोऑपरेटिव बैंक के बारे में आरबीआई ने मंगलवार को एक विज्ञप्ति में बताया कि उसने इस बैंक को कुछ निर्देश दिए हैं, जो 17 नवंबर 2020 को बैंक बंद होने के बाद से छह माह तक प्रभावी होंगे। इन निर्देशों के अनुसार, यह बैंक आरबीआई की अनुमति के बिना कोई कर्ज या उधार नहीं दे सकेगा और न ही पुराने कर्जों का नवीनीकरण तथा कोई निवेश कर सकेगा। बैंक पर नई जमा राशि स्वीकार करने पर भी पाबंदी लगा दी गयी है। वह कोई भुगतान भी नहीं कर सकेगा और ना ही भुगतान करने का कोई समझौता कर सकेगा।


    3
    0

    Comments

    • Ok

      Commented by :Aslam
      18-11-2020 21:08:05

    • Ok

      Commented by :Sushil Kumar Gautam
      18-11-2020 17:42:48

    • Ok

      Commented by :Saddam husain
      18-11-2020 17:32:47

    • Not good decision

      Commented by :Md shahnawaz
      18-11-2020 10:06:19

    • Load More

    Leave a comment



    Similar Post You May Like

    Trends

    Special Story