भारतीय कर्मचारी की शिकायत पर जैक मा को यह समन भेजा गया

भारतीय कर्मचारी की शिकायत पर जैक मा को यह समन भेजा गया

एक भारतीय कोर्ट ने चीन की दिग्गज कंपनी अलीबाबा और उसके फाउंडर जैक मा को समन भेजा है। दरअसल एक भारतीय कर्मचारी की शिकायत पर जैक मा को यह समन भेजा गया है, कर्मचारी ने नौकरी से गलत तरीके से निकालने का आरोप लगाया है। चीन की कंपनी यूसी ब्राउजर में एक भारतीय कर्मचारी काम करता था, जिसने आरोप लगाया था कि यूसी ब्राउजर और यूसी न्यूज में गलत खबरें फैलाई जाती है और इसके बाद कर्मचारी को नौकरी से निकाल दिया गया था। बता दें कि केंद्र सरकार ने चीन की 59 एप्स पर प्रतिबंध लगा दिया है। इसमें अलीबाबा कंपनी की एप यूसी ब्राउजर और यूसी न्यूज भी शामिल हैं। सरकार ने यह प्रतिबंध लद्दाख सीमा पर चीनी सैनिकों के साथ हुए तनाव को देखते हुए लगाया गया था, जिसमें भारत के 20 सैनिक शहीद हो गए थे। केंद्र सरकार ने सुरक्षा का हवाला देते हुए इन एप्स पर ये बैन लगाने का फैसला किया था।

कोर्ट की फाइलिंग के मुताबिक 20 जुलाई को अलीबाबा की यूसी वेब के एक पूर्व कर्मचारी पुष्पेंद्र सिंह परमार ने आरोप लगाया कि यूसी वेब चीन के खिलाफ सभी कंटेंट को सेंसर करती है और यूसी ब्राउज़र और यूसी न्यूज पर फेक न्यूज चलाई जाती थी। गुरुग्राम के एक सिविल कोर्ट की जज सोनिया शेओकांड ने अलीबाबा, जैक मा और करीब दर्जन भर लोगों के खिलाफ समन जारी कर दिया है। कोर्ट ने कहा है कि या तो 29 जुलाई तक ये लोग यहां आ जाएं या फिर अपने वकील को यहां कोर्ट में भेजें। जज ने कंपनी और कार्यकारी अधिकारियों से 30 दिन में लिखित जवाब भी देने को कहा है।



 


    Share this story