मनोरंजनयात्रा

जैसलमेर में ऊँट की सवारी

जैसलमेर में ऊँट की सवारी :-

ऊँट की सवारी जैसलमेर में पर्याप्त मात्रा में पायी जाती है। यहां पर्यटक ऊँट की सवारी प्रमुख आकर्षण है। ऊँट की सवारी जैसलमेर में एक प्रसिद्ध और रोमांचक कार्यक्रम है। ये पर्यटक की मुख्य ध्यान आकर्षित करता है। पर्यटक एक ऊँट पर बैठकर शहर के चारों ओर घूमना एक अलग अनुभव होता है। ये सवारियां आपको धीरे-धीरे रेगिस्तान के मैदानों में ले जाती हैं। रेगिस्तानी इलाके के अद्भुत दृश्यों का आनंद लेने का मौका देता है। आप जैसलमेर के बाजारों या पर्यटन केंद्रों पर जा सकते हैं और वहां से एक ऊँट की सवारी आयोजित करवाई जाती है। यहां ऊँटों की संख्या काफी अधिक होती है। यहां जैसलमेर किला, पटवों की हवेली, नतराज का मंदिर, गढ़ी सागर झील, सम धानिया का मंदिर, और सालिम सिंह की हवेली जैसे प्रसिद्ध स्थल घूमने के अवसर प्रदान करते है। ऊँट की सवारी स्थानीय जनता को रोजगार के अवसर प्रदान करती है।

जैसलमेर पहुंचने के लिए विभिन्न साधन हैं:

हवाई मार्ग से:

जैसलमेर का सबसे निकटवर्ती हवाई अड्डा जैसलमेर अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा है। आप इसके माध्यम से अन्य भारतीय शहरों या विदेशी नगरों से जैसलमेर पहुंच सकते हैं।

रेलवे मार्ग से:

जैसलमेर का रेलवे स्टेशन भी है। जिससे आप रेल द्वारा भी यहां पहुंच सकते हैं। जैसलमेर का रेलवे स्टेशन राजस्थान के अन्य शहरों से जुड़ा हुआ है।

सड़क मार्ग से:

राजस्थान के अन्य हिस्सों से भी सड़क यातायात के जरिए जैसलमेर पहुंच सकते हैं। आप बस, कार, या टैक्सी का इस्तेमाल कर सकते हैं।

Read more…….चमत्कारों का साक्षी हाथरस जनपद का प्राचीन मां भद्रकाली का मंदिर

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button