विशेष खबरसेहत और स्वास्थ्य
Trending

पानी

पानी रे पानी तेरा रंग कैसा , भूखे की भूख और प्यास जैसा। यह गाना, पानी की कीमत को दर्शाता है पानी जीवन में अतुलनीय है इस लिए अक्सर लोग कहते हैं कि खूब पानी पीना चाहिए जिससे शरीर में डिहाइड्रेशन न हो और हम स्वस्थ बने रहें. लेकिन अधिक पानी पीना भी स्वास्थ्य समस्याएं पैदा करता है या कर सकता है। अधिक पानी पीने से हमें सिरदर्द, थकान, जैसी दिक्कतें हो सकती हैं. कई मामलों में अधिक पानी पीने से आदमी कोमा तक में चला जाता है जिससे उसकी मौत हो जाती है। एक खबर के अनुसार कनाडा की एक महिला टिकटॉकर के द्वारा अधिक पानी पीने के कारण उसकी तबियत इतनी बिगड़ गई कि उसे अस्पताल में भर्ती करना पड़ा . महिला पानी पीने के कारण  बीमार पड़ गई और जब वो अस्पताल में भर्ती हुई तो, डॉक्टर ने बताया कि उसे सोडियम डेफिशिएंसी या हाइपोनेट्रेमिया हो गया है., डॉक्टर ने महिला को बताया कि अगर समय पर इसका इलाज नहीं होता तो महिला की जान भी जा सकती थी।

एक दिन  हमें कितना पानी पीना चाहिए इसका कोई पैमाना नहीं है,  हालांकि, अधिकतर चिकित्सक सलाह देते हैं कि एक स्वस्थ इंसान को एक दिन में आठ गिलास पानी पीना चाहिए,  पानी पीना स्थानीय वातावरण, और आपकी दिनचर्या और अवस्था पर भी निर्भर करता है , यदि आप एक्सरसाइज करते है या प्रेग्नेंसी में है या ब्रेस्टफीडिंग कराते हैं तब आप अधिक पानी पीते हैं। जैसे आपको फूड पॉइजनिंग होती है वैसे आपको वाटर पॉइजनिंग भी हो सकती है, इससे दिमाग ढंग से काम नहीं करता है, ऐसा इसलिए क्योंकि जब हमारे मस्तिष्क की कोशिकाओं में अधिक पानी हो जाता है तो वो सूज जाती हैं जिससे मस्तिष्क में दबाव पैदा होता है।

ऐसी स्थिति में इंसान को सिरदर्द होता है और वह किसी एक जगह पर ध्यान केंद्रित नहीं कर पाता है, जब यह प्रेशर बढ़ता है तो इंसान को हाई ब्लड प्रेशर और हृदय गति कम होने की समस्या उत्पन्न हो जाती है। शरीर में अधिक पानी हो जाए तो शरीर में सोडियम की कमी हो जाती है जिससे हाइपोनेट्रेमिया की समस्या हो जाती है, सोडियम हमारे शरीर में एक अहम तत्व है जो लिक्विड्स के बीच में संतुलन बनाने का काम करता है, जब इसका स्तर घटता है तो कोशिकाओं में सूजन पैदा होती है जिससे व्यक्ति कोमा में जा सकता है या चला जाता है। हम कम या ज्यादा पानी पी रहे हैं, इसका पता लगाने का सबसे अच्छा तरीका है हमारे यूरीन का रंग।

यूरीन का रंग हल्का पीलापन लिए होता है. अगर आप बहुत ज्यादा पानी पी रहे हैं तो आपके यूरीन का रंग अक्सर साफ दिखेगा. अगर यूरीन का रंग बिल्कुल साफ है तो इसका मतलब है कि आप बहुत अधिक पानी पी रहे हैं. वहीं, अगर यूरीन का रंग ज्यादा पीला है तो इसका मतलब है कि आप कम पानी पी रहे हैं।

अगर आप सामान्य से ज्यादा बार बाथरूम जा रहे हैं तो इसका एक मतलब यह है कि आप अधिक पानी पी रहे हैं. अगर आप दिन में 6-8 बार बाथरूम जा रहे हैं तो यह सामान्य माना जाता है. हालांकि, जो लोग अधिक कैफीन और कैफीन और एल्कोहल का सेवन करते हैं, वो सामान्यतः 10 बार बाथरूम चले जाते हैं, जो कि नॉर्मल है। आपको पानी तभी पीना चाहिए जब प्यास लगे बिना प्यास के पानी पीना दुखदाई हो सकता है।

जब हम अधिक पानी पीते हैं तो हमारी किडनी पर दबाव पड़ता है और वो शरीर के अतिरिक्त लिक्विड को बाहर नहीं निकाल पाती है. इस वजह से लिक्विड शरीर में ही जमा होने लगता है जिससे उल्टी या उलटी कि शिकायत होती है।

read more… क्या blood sugar वाले लोगों के लिए मकई खाना सुरक्षित है?

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button