मनोरंजनहास्य

चिंटू और मिंटू

Chintu and Mintu

चिंटू और मिंटू

चिंटू और मिंटू नाम के दो बहुत ही शरारती लड़के थे उनकी शैतानियों से पूरा मोहल्ला तंग आया हुआ था। माता-पिता रात दिन इसी चिन्ता में डूबे रहते कि आज पता नहीं वे दोनों क्या करेंगे।

एक दिन गांव में एक विद्वान साधु महाराज जी आये। लोगों का कहना था कि बड़े ही पहुंचे हुये महात्मा है। जिसको आशीर्वाद दे दें उसका कल्याण हो जाये। पड़ोसन ने बच्चों की माँ को सलाह दी कि तुम अपने बच्चों को इन साधु के पास ले जाओ। शायद उनके आशीर्वाद से उनकी बुध्दि कुछ ठीक हो जाये। माँ को पड़ोसन की बात ठीक लगी। पड़ोसन ने यह भी कहा कि दोनों को एक साथ मत ले जाना नहीं तो क्या पता दोनों मिलकर वहीं कुछ शरारत कर दें और साधु नाराज हो जाये।

अगले ही दिन माँ छोटे बच्चे को लेकर साधु के पास ले गयी। साधु ने बच्चे से पूछा – ”बेटे, तुम भगवान को जानते हो न ? बताओ, भगवान कहाँ है ?”

बच्चा कुछ नहीं बोला बस साधु की ओर देखता रहा। साधु ने फिर पूछा पर बच्चा फिर भी कुछ नहीं बोला। अब साधु को कुछ चिढ़ सी आई। उसने थोड़ी नाराजगी प्रकट करते हुये कहा – ”मैं क्या पूछ रहा हूँ तुम्हें सुनाई नहीं देता । जवाब दो, भगवान कहाँ है ?

” बच्चे ने बिना कोई जवाब दिए, वहाँ से तेजी से बाहर की ओर भागा। साधु ने आवाज दी पर वह रूका नहीं सीधा घर जाकर अपने कमरे में पलंग के नीचे छुप गया। बड़ा भाई, जो घर पर ही था, ने उसे छुपते हुये देखा तो पूछा – ”क्या हुआ ? छुप क्यों रहे हो ?”

”अबकी बार हम बहुत बड़ी मुसीबत में फंस गये हैं। भगवान कहीं गुम हो गए है और लोग समझ रहे हैं कि इसमें हमारा हाथ है!

ऐसी फनी स्टोरी के लिए पढ़ते रहिये – मेधज न्यूज़!

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button