मेरठ-दिल्ली हाइवे पर सीएम योगी ने कांवड़ियों पर की पुष्पवर्षा, शिवभक्तों ने किया योगी-योगी का उद्घोष

दिल्ली-मेरठ हाइवे पर शुक्रवार को कांवड़ यात्रा पर निकले शिवभक्तों को बेहद खास अहसास की अनुभूति हुई, क्योंकि स्वयं सीएम योगी द्वारा उनपर पुष्प वर्षा की गई। सीएम योगी सीधे सहारनपुर से दिल्ली-मेरठ हाइवे पहुंचे, जहां उन्होंने हजारों की तादात में उपस्थित शिवभक्तों पर दोनों हाथों से पुष्प बरसाए। सीएम के लिए यहां पर विशेष मंच बनाया गया था, जिस पर खड़े होकर उन्होंने पुष्प वर्षा की।सीएम को अपने बीच पाकर कांवड़ियों का उत्साह भी सातवें आसमान पर पहुंच गया। बैंड-बाजे और डीजे की धुन पर थिरकते हुए उन्होंने भी सीएम योगी का अभिनंदन किया।

बाढ़ पीड़ितों के बीच ग्राउंड जीरो पर पहुंचे सीएम योगी, बोले- सरकार आपके साथ

 

इस बीच शिवभक्तों की ओर से योगी-योगी, हर हर महादेव और जय भोले का उद्घोष भी सुनाई दिया। सीएम योगी के साथ जल शक्ति मंत्री स्वतंत्र देव सिंह और प्रमुख सचिव गृह संजय प्रसाद भी उपस्थित रहे। इससे पहले शुक्रवार दोपहर को मेरठ के आसमान से शिवभक्तों पर हेलीकॉप्टर से पुष्प वर्षा की गई। हेलिकॉप्टर से प्रशासन, पुलिस के वरिष्ठ अफसरों ने आसमान से कांवड़ियों पर फूल बरसाए। मेरठ से बरनावा तक कांवड़ियों पर फूल वर्षा की गई। उल्लेखनीय है कि उत्तर प्रदेश में योगी सरकार आने के बाद लगातार हर साल कांवड़ यात्रा में कांवड़ियों पर फूल बरसाए जाते हैं। कुछ दिन पहले वाराणसी में भी अफसरों ने कांवड़ियों पर पुष्पवर्षा की थी।

मेरठ पुलिस लाइन से कमिश्नर, डीएम समेत अन्य बड़े अधिकारियों ने हेलिकाप्टर से उड़ान भरी। हेलिकाप्टर से उड़कर पूरे जिले और जनपद की सीमाओं में कांवड़ यात्रा का हवाई सर्वेक्षण किया गया। इसके बाद पुष्पवर्षा हुई। डीएम और एसएसपी ने मेरठ जिले में कांवड़ियों का स्वागत हेलिकॉप्टर से फूल बरसा कर किया। पुलिस लाइन, बेगमपुल, सिवाया टोल, मटौर, सकौती, दादरी, खतौली, सलावा, नानू पुल, पूठखास पुल, जानी पुल, निवाड़ी, मोहिद्दीनपुर, परतापुर इंटरचेज, सुभारती, कंकरखेड़ा फ्लाईओवर होते हुए औघड़नाथ मंदिर पर हेलिकॉप्टर से फूल बरसाए गए। इसके बाद बागपत में पुलिस लाइन से रेलवे क्रासिंग, बरनावा पुलिस चौकी, गल्हैता गांव ओर पुरामहादेव मंदिर में पुष्पवर्षा हुई।

मुख्यमंत्री व्यापारी दुर्घटना बीमा योजना के तहत अब तक लगभग 1069 व्यापारियों को किया गया लाभान्वित

Exit mobile version