क्राइमउत्तर प्रदेश / यूपी

उड़ीसा की रहनेवाली युवती की मिली लखनऊ में लाश

एक अत्यंत चौंकाने वाली खबर लखनऊ से सामने आई है, जहाँ पुलिस को उड़ीसा में रहने वाली एक युवती की लाश मिली है। युवती की लाश को कब्जे में लेकर पोस्र्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

कहाँ की है ये घटना

बृहस्पतिवार को लखनऊ के वृंदावन सेक्टर-19 में स्थित पानी की टंकी के पास खड़ी एक कार की पिछली सीट पर उड़ीसा की एक युवती की लाश मिली है। इस घटना की सूचना प्राप्त होते ही पुलिस ने स्थान पर पहुंचकर जांच की शुरुआत की है। और युवती की लाश को कब्जे में लेकर पोस्र्टमार्टम के लिए भेज दिया है व उसके परिजनों को इसकी सूचना दे दी गयी है।

पुलिस की जांच

घटना के स्थान पर पहुंचने के बाद पुलिस ने इस ह्त्या की जांच के लिए तीन टीमें बनाई हैं, जिनमें सर्विलांस टीम भी शामिल है, लाश होने की खबर बृहस्पतिवार को शाम करीब 5:30 बजे लोगो के द्वारा पुलिस को दी गयी जिसके बाद एडीसीपी व पीजीआई थाने की पुलिस वारदात स्थल पर पहुँच गयी, उसके पास से मोबाइल फोन मिला जिसके जरिये उसके परिजनों से संपर्क किया गया व युवती की हत्या की जानकारी दी गयी परिजनों से संपर्क करने पर युवती की पहचान सुष्मिता राउत की रूप में हुई हैं, उसकी उम्र 27 वर्ष की है। युवती के परिवार के लोग उड़ीसा से लखनऊ के लिए रवाना हो चुके है।

इसके साथ ही कॉल डिटेल्स भी निकालकर संदिग्ध नंबरों की पहचान की जा रही है। फोरेंसिक टीम भी घटना स्थल पर पहुंची है। युवती के मुँह से झाग निकल रहा था जिससे अंदाजा लगाया जा रहा है कि कहीं युवती ने कोई जहरीला पदार्थ तो नहीं खाया हैं, या किसी दवाई का ओवरडोज तो नहीं हुआ हैं, अंदर पड़ी युवती की लाश को देखकर ये अंदाजा लगाया जा रहा था कि उसके साथ किसी तरह का कोई दुष्कर्मं नहीं हुआ क्योंकि शव पर पुरे कपडे थे व युवती ने सलवार सूट पहना हुआ था। तो ऐसे में उसके साथ किसी भी तरह के कोई गलत काम होने की आशंका नहीं है।

युवती का मोबाइल फ़ोन ऑन था

सुष्मिता का मोबाइल पुलिस को कार में ही मिला और उसका मोबाइल भी ऑन था। पुलिस ने बताया कि जब उन्हें इस घटना की जानकारी मिली तो उसके लगभग तीन चार घंटे पहले की घटना लग रही है। पुलिस ने सूचना देने वाले और वहां आस-पास के लोगो से पूछतांछ की तो जानकारी में ये आया कि कार दोपहर 12 बजे से वहाँ पर खड़ी थी। युवती के मोबाइल का पासवर्ड बहुत ही साधारण था जिसकी वजह से पुलिस ने मोबाइल को जल्दी खोल लिया कर उसे घरवालों से संपर्क करने में आसानी हो सकी।

लखनऊ में उड़ीसा से क्या करने आयी युवती

युवती की लाश मिलने पर जब पुलिस ने जाँच करना शुरू किया तो पता चला की युवती लखनऊ 8 दिन पहले नौकरी तलाश करने की बात कहकर घर से आयी थी ये जानकारी उसके परिजनों ने पुलिस वालो को दी। युवती की हत्या की खबर सुनकर उसके परिवार की लोग स्तब्ध है। पुलिस इस बात की जानकारी कर रही है की दिल्ली के रहने वाले शख्स की कार में आखिर युवती क्या कर रही थी। मिली कार नंबर डीएल 3सीबीएम 8602 की जानकारी करने पर पता चला की ये कार दिल्ली मयूर विहार के रहने वाले रविंद्र सिंह की है। एडीसीपी ने बताया कि अभी तक की जानकारी में सामने आया है की कार का मालिक दिल्ली का रहने वाला है और उससे संपर्क क पर कुछ अहम जानकारी मिली है। उसका परिचित शख्स उसकी कार को लेकर लखनऊ आया था। और वही उसके संपर्क में था जबसे युवती लखनऊ आयी तब से ये युवक उसके सम्पर्क में था। शुरुवाती जाँच में उस युवक का नाम विष्णु द्विवेदी आया है।

युवती के साथ आया था कोई शख्स

इस बात का अंदाजा लगाया जा रहा कि सुष्मिता के साथ वृन्दावन कॉलोनी तक कोई शख्स कार चलकर आया था। उसी दौरान ये घटना हुई जिसके बाद वह सुष्मिता को वैसी ही हालत में छोड़ कर वहाँ से भाग गया।

मोबाइल से मिली अहम जानकारी

सुष्मिता के मोबाइल से पुलिस को जानकारी मिली की करीब 6:30 बजे सुबह उसकी बात अपनी माँ से हुई थी। कॉल डिटेल में माँ का नंबर मिला है। माँ से बात होने के बाद भी कई नंबर पर बात हुई है जिनकी जानकारी जुटाई जा रही है। युवती के परिजन संपर्क में है कार का मालिक दिल्ली का रहने वाला रविंद्र है उसका मोबाइल नंबर अभी बंद जा रहा है। पुलिस वृन्दावन की तरफ आने वाले रास्ते में लगे सीसीटीवी की भी मदद ले रही है जिससे गाड़ी की मूवमेंट का पता लगाया जा सके। पुलिस का कहना है कि जल्द इस घटना का खुलासा किया जायेगा।

READ MORE… भरूच में शिकार बनी एक और हिंदू छात्रा पहुंची पुलिस के पास, लड़की को ब्लैकमेल करने की रची गई थी साजिश,

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button