राज्यउत्तर प्रदेश / यूपी

मरीजों की जानकारी के लिए डिस्प्ले बोर्ड किये जाये स्थापित – डॉ0 दयाशंकर मिश्र

प्रदेश के आयुष राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन (एमओएस) डा0 दयाशंकर मिश्रा दयालु कल उ0प्र0 राज्य आयुष सोसाइटी कार्यालय के सभागार में प्रदेश के सभी राजकीय आयुर्वेदिक मेडिकल कालेज/यूनानी मेडिकल कालेज एवं होम्योपैथिक मेडिकल कालेज के प्रधानाचार्यों के साथ वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से समीक्षा बैठक किया। उन्होंने सभी प्रधानाचार्यों को निर्देशित करते हुए कहा कि सभी छात्रावासों में छात्रों हेतु पौष्टिक भोजन उपलब्ध कराने के लिए मेस का संचालन सुचारू रूप से सुनिश्चित किया जाय। छात्र कमरे में खाना न बनाकर मेस एवं कैन्टीन की व्यवस्था अपनाये। उन्होंने प्रधानाचार्यों को निर्देश दिये कि अपने कैम्पस में साफ-सफाई पर विशेष ध्यान दें।

आयुष मंत्री ने प्रधानाचार्यों को निर्देश देते हुए कहा कि ओपीडी में आने वाले रोगियों की सुविधा के लिए मुख्य स्थान पर साइनेज को स्थापित कराएं ताकि मरीजों को चिकित्सकों, पैथालाजी एवं अन्य आवश्यक जानकारी को आसानी से प्राप्त कर सकें। उन्होंने निर्देश दिये कि चिकित्सकों के ओपीडी के बाहर मरीजों का कौन सा नम्बर चल रहा है इसकी जानकारी के लिए डिस्प्ले बोर्ड पर प्रदर्शित की जाय, जिससे कि मरीजों को अपने नम्बर की सूचना मिलती रहे। उन्होंने कहा कि मरीजों को इधर-उधर न भटकना पड़े इसके लिए अस्पताल से सम्बंधित सभी जानकारियों की एक चार्ट बनाकर सूचना प्रदर्शित करें। उन्होंने निर्देश दिये कि ओपीडी में किसी दिन, कौन से डाक्टर की ओपीडी है, उसकी भी सूचना अंकित कराना सुनिश्चित करें।

डा0 दयालु ने सभी प्रधानाचार्य को निर्देश दिये हैं कि कालेजों में रिक्तियों की सूचना निदेशालय को प्राथमिकता पर उपलब्ध कराएं। उन्होंने कहा कि प्रधानाचार्य अपने-अपने कैम्पस की साफ-सफाई, बिजली की आपूर्ति, पीने का स्वच्छ पानी की व्यवस्था को नियमित रूप से कराना सुनिश्चित कराएं। उन्होंने कहा कि छात्रावासों के मरम्मत की कार्यवाही शीघ्र ही पूर्ण कराएं।

आयुष मंत्री ने कहा कि सभी कालेजों में दवाइयों की आपूर्ति नियमित रूप से सुनिश्चित की जाय। दवाइयों की कमी न होने पाये। उन्होंने निर्देश दिये कि कालेजों में समस्त अधिकारी एवं कर्मचारियों की बायो मैैट्रिक उपस्थिति की रिपोर्ट निदेशालय में प्रत्येक माह भेजना सुनिश्चित करें। उन्होंने निर्देश दिये कि सभी कालेजों के पुस्तकालयों की व्यवस्था को सुचारू रूप से संचालित किया जाय ताकि छात्र/छात्राओं को पठन-पाठन में कोई असुविधा न हो।

प्रमुख सचिव आयुष लीना जौहरी ने आयुष मंत्री को सभी आयुर्वेदिक, यूनानी एवं होम्योपैथिक कालेजों की प्रगति रिपोर्ट विस्तार से अवगत कराया। उन्होंने सभी प्रधानाचार्यों को निर्देश दिये कि वे यूसी की कापी निदेशक/मिशन निदेशक एवं शासन को उपलब्ध कराएं। उन्होंने निर्माण कार्यों को तेजी से गुणवत्ता एवं समयबद्धता पर कराने के निर्देश दिये। उन्होंने मंत्री जी को आश्वस्त किया कि उनके द्वारा दिये गये निर्देशों का अनुपालन कड़ाई से कराया जायेगा।

इस बैठक में उ0प्र0 राज्य आयुष सोसाइटी के निदेशक महेन्द्र वर्मा, निदेशक आयुर्वेद डा0 पी0सी0 सक्सेना, निदेशक होम्योपैथ प्रो0 ए0के0 वर्मा, यूनानी निदेशक प्रो0 अब्दुल वाहिद सहित प्रदेश के सभी आयुर्वेद, यूनानी, हौम्योपैथ मेडिकल कालेजों के प्रधानाचार्य उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button