मॉनसून में गाड़ी चलाने से पहले करें ये काम, रतन टाटा ने शेयर किए टिप्स

भारत में मॉनसून की जोरदार शुरुआत हो चुकी है। ऐसे में कार चलाना बहुत मुश्किल था। इसलिए बरसात के मौसम में कार चलाने से पहले और गाड़ी चलाते समय कुछ बातों का ध्यान रखना जरूरी है। इससे हम दुर्घटनाओं से बच सकते हैं।

इस मौसम में इंसानों के साथ-साथ जानवरों का भी ख्याल रखना चाहिए। पशु प्रेमी रतन टाटा ने जानवरों को सुरक्षित रखने के लिए कुछ अहम टिप्स दिए हैं। उन्हें कुत्तों से विशेष प्रेम है।

रतन टाटा जानवरों के अधिकारों को लेकर हमेशा जागरूक रहते हैं। और समाज में इसके प्रति जागरुकता बढ़ाने के लिए काम करते हैं। एक ट्वीट के जरिए उन्होंने मानसून के दौरान आवारा कुत्तों और बिल्लियों के खतरों के बारे में जागरूकता बढ़ाने की कोशिश की है।

टाटा क्या कहता है?:-
बरसात के मौसम में ये जानवर खुद को बारिश से बचाने के लिए कारों के नीचे छिप जाते हैं। रतन टाटा ने कहा कि नागरिकों को इसके प्रति जागरूक रहना चाहिए । इसलिए टाटा की सलाह है कि कार स्टार्ट करने से पहले यह जांच लें कि कार के नीचे कोई ऐसा जानवर तो नहीं बैठा है।

उन्होंने लिखा कि अगर आपको नहीं पता कि कार के नीचे कौन सा जानवर है। तो आप कार स्टार्ट करके जानवर को गंभीर रूप से घायल कर सकते हैं। उन्हें निष्क्रिय किया जा सकता है। इसलिए यह बहुत अच्छा होगा यदि हम इस मौसम में उन्हें आश्रय प्रदान कर सकें।

इस ट्वीट के बाद लोगों ने रतन टाटा की तारीफ की. अपने काम के अलावा रतन टाटा अपने चैरिटी कार्यों के लिए भी जाने जाते हैं। इसके अलावा वे समय-समय पर जानवरों के प्रति अपना प्यार भी जाहिर करते रहते हैं। उन्होंने बरसात के दौरान भी लोगों को जागरूक करने का काम किया है।

अक्सर हम बिना नीचे देखे गाड़ी स्टार्ट कर देते हैं। और फिर उसके नीचे बैठे कुत्ते-बिल्ली दब जाते हैं। तो वे गंभीर रूप से घायल हो जाते हैं। इसलिए कार स्टार्ट करने से पहले उसके नीचे देख लें।

इतना ही नहीं, स्टार्ट होने के बाद 30 सेकंड तक गाड़ी को आगे नहीं बढ़ाना चाहिए। एक ही स्थान पर खड़ा रहना चाहिए। इसका मतलब यह है कि अगर कोई जानवर गलती से नीचे रह जाए तो वह बाहर निकल कर भाग सकता है।

इसके अलावा बरसात के मौसम में गाड़ी चलाते समय भी सावधानी बरतनी चाहिए। अपने वाहन को हमेशा अच्छी स्थिति में रखें। लाइट, ब्रेक, इंजन आदि चीजों की जांच करनी चाहिए। साथ ही सड़क पर चलते समय गति पर भी नियंत्रण रखना चाहिए।

Exit mobile version