राज्यउत्तर प्रदेश / यूपी

रोहिंग्या मुसलमानों पर योगी सरकार के शिकंजे का दिखा असर

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ प्रदेश में अवैध घुसपैठियों को लेकर काफी संजीदा हैं। इसको लेकर मुख्यमंत्री मंशा के अनुरूप यूपी पुलिस की विभिन्न विंग द्वारा समय समय पर अभियान भी चलाया जाता है। इसी क्रम में उत्तर प्रदेश में अवैध रूप से रह रहे रोहिंग्या को यूपी एटीएस ने गिरफ्तार किया है। पिछले कई दिनों से टीम इनकी फिराक में थी। वहीं यूपी एटीएस ने प्रदेश के अलग-अलग जिले से कुल 74 रोहिंग्या पकड़े हैं, जिसमें मथुरा से 31, अलीगढ़ से 17, गाजियाबाद से 4, हापुड़ से 13, मेरठ-सहारनपुर से 2-2 रोहिंग्या अरेस्ट किये हैं। इसके अलावा हापुड़ से 2 पुरुष बाल अपचारी और 1 महिला बाल अपचारी को दबोचा है जबकि मेरठ से एक पुरुष बाल अपचारी और एक महिला बाल अपचारी को पकड़ा है। मथुरा में सुबह तड़के यूपी एटीएस ने ताबड़तोड़ कार्रवाई कर अवैध रूप से जुग्गी झोपड़ियों में रह रहे रोहिंग्या मुसलमानों को गिरफ्तार किया है। एटीएस ने मथुरा पुलिस के साथ मिलकर थाना जैंत क्षेत्र में यहां रह रहे रोहिंग्या को दबोचा है। यूपी एटीएस और मथुरा पुलिस की करीब आठ घंटे तक चली इस कार्रवाई में 31 रोहिंग्या मुसलमान गिरफ्तार किये गए हैं।

बांग्लादेशी घुसपैठियों को दबोचा

बांग्लादेश से भारत में घुसपैठ कर चुके रोहिंग्या मुसलमानों पर योगी सरकार ने शिकंजा कसना शुरू के दिया है, जिसका एक बड़ा उदाहरण मथुरा के थाना जैंत क्षेत्र में उस वक्त देखने को मिला जब यूपी एटीएस की टीम के साथ मथुरा पुलिस अधिकारियों के नेतृत्व में भारी पुलिस बल और पीएससी की बटालियन ने सुबह तड़के ताबड़तोड़ कार्रवाई करते हुए कई रोहिंग्या मुसलमानों को हिरासत में लिया। ये मुसलमान सैकड़ों की तादाद में झुग्गियां बना कर लंबे समय से रह रहे थे। व्यस्कों से अधिक संख्या में बच्चे यहां देखने को मिले। मिली जानकारी के मुताबिक इन बच्चों को ट्रेंड करने के लिए एक मौलवी यहां इनको उर्दू के साथ-साथ तमाम तरह की तालीम दिया करता थे।

रात दो बजे पहुंची टीम

यूपी एटीएस के मुताबिक बड़ी संख्या में मथुरा के थाना जैंत क्षेत्र के अलहपुर और कोटा गांव के बीच मुसलमान झुग्गी झोपड़ी बनाकर रह रहे थे। उन्हें यह भी जानकारी मिली कि यह सभी अवैध रूप से बांग्लादेश से बॉर्डर क्रॉस कर भारत आये और यहां पर जुग्गी झोपड़ियों में रह रहे हैं। इसके बाद यूपी एटीएस ने गोपनीय तरीके से जांच शुरू की, तो यह जानकारी सही साबित हुई। इसके बाद टीम मथुरा के एसएसपी शैलेश पांडे और एसपी सिटी मार्तंड प्रकाश सिंह के साथ एक टीम बनाई और आगरा दिल्ली नेशनल हाईवे पर अलाहपुर गांव के पास बनी झुग्गी झोपड़ियों पर पहुंचकर कार्यवाही शुरू की। यहां टीम ने तीन स्थानों पर कार्रवाई की। आधी रात को पहुंची टीम ने पहले तो सभी के कागज चेक किये और बाद में करीब 31 रोहिंग्या मुसलमानों को हिरासत में लिया।

Read more…सावन के तीसरे सोमवार पर भी शिवभक्तों पर योगी सरकार ने कराई पुष्पवर्षा

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button