यश चोपड़ा ने बदला शाहरुख का करियर

Medhaj News 27 Sep 20 , 10:14:42 Entertainment Viewed : 3818 Times
darr.jpg

बॉलीवुड में रोमांटिक फिल्मों के लिए एक अलग जगह है | ऐसी फिल्मों का चलन तो हिंदी सिनेमा में कई दशक से चल रहा है | कई खूबसूरत प्रेम कहानियों को बड़े पर्दे पर जीवित किया गया है | लेकिन बॉलीवुड को एक ऐसे डायरेक्टर भी मिले थे जिन्होंने ना सिर्फ रोमांस की परिभाषा बदल दी बल्कि फिल्मों को दिखाने का नजरिया भी हमेशा के लिए बदल दिया | हम बात कर रहे हैं दिग्गज फिल्म डायरेक्टर यश चोपड़ा की | यश चोपड़ा ने अपनी जिंदगी में कई फिल्में डायरेक्ट की थीं | उनका काम उनकी पहचान बना और उन्हें वो शोहरत दिला गया कि उनके अलविदा कह देने के बाद भी वे सभी के दिल में हमेशा जिंदा रहे | यश चोपड़ा के करियर को दो तरीकों से देखा जा सकता है | एक तो हम कह सकते हैं कि उन्होंने बॉलीवुड को टॉप रोमांटिक फिल्में दी हैं, वहीं दूसरा पहलू ये है कि उन्होंने बॉलीवुड को उसके किंग ऑफ रोमांस से मिलवाया था | जी हां हम बात कर रहे हैं बॉलीवुड के बादशाह शाहरुख खान की जिन्होंने अपने करियर में कई फिल्में यश चोपड़ा संग की थीं | उन्हीं की बदौलत उन्हें किंग ऑफ रोमांस का तमगा मिला था | खुद शाहरुख ने कई इंटरव्यू में अपनी सफलता का श्रेय यश चोपड़ा को दिया है | 

आपको ये जानकर हैरानी होगी कि शाहरुख खान तो कभी रोमांटिक फिल्म करना ही नहीं चाहते थे | उन्होंने अपने करियर की शुरुआत यश चोपड़ा की फिल्म डर से की थी | अब ऐसी फिल्म में काम करने वाले शाहरुख को लगता था कि वे सिर्फ डार्क और विलेन वाले रोल ही कर सकते हैं | वे खुद को ज्यादा हैंडसम भी नहीं मानते थे | लेकिन तब यश चोपड़ा ने शाहरुख को कहा था- अगर स्क्रीन लवर बॉय नहीं बने, अगर तुमने रोमांटिक फिल्में नहीं की, तो तुम्हारा करियर कही नहीं जाएगा | अब शाहरुख, यश चोपड़ा को बहुत मानते थे | ऐसे में उन्होंने सिर्फ उनके कहने के बाद अपने करियर की दिशा बदल डाली | इसके बाद तो शाहरुख ने दिल वाले दुल्हनियां ले जाएंगे, दिल तो पागल है, मोहब्बतें, वीर जारा जैसी कई लाजवाब फिल्मों में काम किया | इन फिल्मों की खासियत ये रहीं कि ये सभी यश राज बैनर के तले बनी थीं | वहीं दिल तो पागल है और वीर जारा का तो निर्देशन भी यश चोपड़ा ने ही किया था | किस्मत देखिए जिसे शाहरुख खान ने यश चोपड़ा कोअपना गुरू माना था, उनके साथ उन्होंने उनकी आखिरी फिल्म भी की थी | हम बात कर रहे हैं जब तक है जान की | ये यश चोपड़ा की आखिरी फिल्म थी,वहीं शाहरुख संग भी उनका आखिरी प्रोजेक्ट | उस फिल्म में यश चोपड़ा का भी जादू देखने को मिला था और किंग ऑफ रोमांस ने भी उनके काम के साथ न्याय किया था | अब जब यश चोपड़ा हमारे बीच नहीं हैं, तब उनकी शख्सियत को भी याद किया जाता है और शाहरुख संग उनकी उस अटूट जोड़ी को भी | 



 


    7
    0

    Comments

    Leave a comment



    Similar Post You May Like

    Trends

    Special Story