प्रत्येक कर्मचारी एवं अधिकारी अपने कर्तव्यों एवं दायित्वों का निर्वहन पूर्ण निष्ठा से करें : -मंत्री स्वतंत्र देव सिंह

उत्तर प्रदेश के जल शक्ति मंत्री स्वतंत्र देव सिंह की उपस्थिति में कल यहाँ सिंचाई एवं जल संसाधन विभाग के डा० राम मनोहर लोहिया परिकल्प भवन, लखनऊ के सभाकक्ष में नवप्रोन्नत सहायक अभियन्ता (याँत्रिक) का पारदर्शिता पूर्ण व्यवस्थान्तर्गत पदस्थापना हेतु उनके द्वारा ऐच्छिक विकल्प चयन का कार्यक्रम आयोजित किया गया। पारदर्शिता पूर्ण व्यवस्थान्तर्गत पदस्थापन प्रक्रिया के तहत 39 सहायक अभियंताओं (यांत्रिक) तथा 04 अधीक्षण अभियंताओं द्वारा ऐच्छिक विकल्प का चयन किया गया। ऐच्छिक विकल्प चयन आधारित प्रक्रिया द्वारा विकल्प चयन प्रक्रिया पर नव प्रोन्नत सहायक अभियन्ताओं द्वारा प्रसन्नता व्यक्त की गयी।

जल शक्ति मंत्री ने इस अवसर पर कहा कि पारदर्शितापूर्ण व्यवस्था के तहत निष्पक्ष पदस्थापना सरकार की प्राथमिकता में है। उन्होंने समस्त अभियन्ताओं से कड़ी मेहनत, पूर्ण निष्ठा एवं ईमानदारी से कृषकों को सिंचाई की सुविधा उपलब्ध कराने की अपेक्षा की गयी। जल शक्ति मंत्री ने निष्पक्ष एवं पारदर्शी प्रक्रिया के तहत पदस्थापना प्रक्रिया में भाग ले रहे सहायक अभियन्ताओं का मार्गदर्शन करते हुये कहा कि प्रत्येक कर्मचारी एवं अधिकारी अपने कर्तव्यों एवं दायित्वों का निर्वहन पूर्ण निष्ठा से करें। तथा प्रदेश के कृषकों को सिंचाई विभाग का पूर्णतः लाभ उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें।

जल शक्ति मंत्री ने सरकार की प्राथमिकताएं बताते हुए अधिकारियों एवं कर्मचारियों को निर्देश दिया कि परिश्रम की पराकाष्ठा पर जाकर अपने दायित्यों का निर्वहन करें और सरकार की योजनाओं के लाभ का गांव निचले तबके तक पहुँचायें। कोई भी अधिकारी और कर्मचारी अपने हेडक्वार्टर से बाहर नहीं रहेगा, अपने हेडक्वार्टर पर ही रह कर विभागीय दायित्वों का निर्वहन करें। विभाग में आमूल चूल सकारात्मक परिवर्तन आया है। विभागीय अधिकारी एवं कर्मचारी अपने दायित्वों का निर्वहन बहुत ही अच्छे से कर रहे है। कृषकों की हर संभव मदद की जा रही है। कृषकों के खुशहाल होने से आज देश भी खुशहाल है। आज देश एवं प्रदेश के बारे में लोगो की सोच में सकारात्मक बदलाव आया है।

जल शक्ति राज्य मंत्री रामकेश निषाद ने इस अवसर पर सभी अभियंताओं को बधाई देते हुए कहा कि अन्नदाता किसान पूरे समाज की सेवा कर रहे हैं, इनकी मदद करना हमारा दायित्व है। यदि विभाग द्वारा दी गई ज़िम्मेदारी में किसी प्रकार की लापरवाही करेंगे तो ईश्वर भी माफ़ नहीं करेगा। अपने दायित्वों का ज़िम्मेदारी पूर्वक निर्वहन करें।

कार्यक्रम में जलशक्ति मंत्री स्वतंत्र देव सिंह, जलशक्ति राज्य मंत्री रामकेश निषाद, विशेष सचिव सिंचाई एवं जल संसाधन विभाग भूपेन्द्र चौधरी, प्रमुख अभियन्ता (यांत्रिक) देवेन्द्र अग्रवाल, प्रमुख अभियन्ता (परियोजना) के साथ अन्य सम्बंधित अधिकारी उपस्थित थे।

Exit mobile version