कोरोना वायरस : यूपी में वीकेंड लॉकडाउन फार्मूला घोषित

कोरोना वायरस : यूपी में वीकेंड लॉकडाउन फार्मूला घोषित

यूपी सरकार ने कोरोना से बचाव के लिए सप्ताह में दो दिन लॉकडाउन घोषित करने का निर्णय लिया है। शनिवार व रविवार को बाजार व मॉल्स बंद रहेंगे। इस दौरान यहां सैनिटाइजेशन का कार्य किया जाएगा। मुख्यमंत्री योगी ने ये फैसला रविवार को अफसरों के साथ बैठक में लिया। इसके अलावा, उन्होंने आदेश दिया कि टेस्टिंग की क्षमता बढ़ाकर हर रोज 50 हजार कोविड टेस्ट करवाए जाएं। उन्होंने कहा कि औद्योगिक इकाइयां भी शनिवार व रविवार को अपने यहां सैनिटाइजेशन करें।मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि सभी कोविड अस्पतालों में ऑक्सीजन की निर्बाध आपूर्ति सुनिश्चित की जाए। यह भी देखा जाए कि अस्पताल में 48 घंटे के लिए ऑक्सीजन का बैकअप मौजूद है या नहीं। उन्होंने कहा कि वर्तमान में चल रहे निर्माण कार्य जैसे एक्सप्रेस-वे, डैम व बाढ़ रोकने के लिए किए जा रहे तटबंधों की मरम्मत के काम सोशल डिस्टेंसिंग के साथ किए जाएं। 

इससे पहले योगी सरकार ने 11 और 12 जुलाई यानि कल और आज का लॉकडाउन घोषित किया था। इस दो दिवसीय बंदी के पहले दिन शनिवार को लोगों ने खुद को घरों में कैद रखा। वीआईपी और पॉश इलाकों से लेकर घनी आबादी की कॉलोनी व बस्तियों तक शांति रही। सड़कों पर जरूरतमंद और आवश्यक सेवाओं से जुड़े लोगों के अलावा बेवजह घूमने वालों की संख्या न के बराबर दिखी। दूध-ब्रेड, सब्जी, किराना और दवा की दुकानों के अलावा कहीं-कहीं एकाध दुकान खुली नजर आई। पुलिस आयुक्त सुजीत पांडेय और जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश ने प्रमुख इलाकों का निरीक्षण किया। शहर के प्रमुख बाजार अमीनाबाद में सन्नाटा रहा। नजीराबाद, गुइन रोड, सेंट्रल होटल रोड, मोहन मार्केट, गड़बड़झाला, झंडेवाला पार्क, फतेहगंज, श्रीराम रोड, गणेशगंज, मौलवीगंज और लाटूश रोड जैसे हर वक्त भीड़ से पटे और चहल-पहल वाले इलाकों में एक भी दुकान नहीं खुली। गोमतीनगर में बंदी पूरी तरह असरकारी रहा। अलीगंज की मुख्य बाजार, डंडइया मार्केट से रहीमनगर जाने वाली बाजार में दूध-दवा के अलावा कोई दुकान खुली नहीं दिखी।



 


    Share this story