भारत ने चीन के 59 ऐप किए बंद टिक टॉक, UC ब्राउज़र जैसे ऐप भी शामिल

Medhaj News 29 Jun 20 , 21:35:23 Governance Viewed : 4085 Times
images_(39).jpeg
चीन से लगातार बढ़ते तनाव के बीच भारत सरकार ने बड़ा फैसला लिया है जिससे चाइना के ऐप इंडिया में बैन कर दिए गए हैं। सरकार ने ऐसा इसलिए किया है क्योंकि भारत और चीन के रिश्तो में बीते दिनों कुछ खटास आ गई है जिसके कारण भारत की सरकार किसी भी तरह का जोखिम नहीं उठाना चाहती है। यह बात हम सब जानते हैं कि चाइनीज एप्स हमारा बहुत सारा डाटा ट्रांसफर करते हैं। इस डाटा का क्या होता है किसी को कोई जानकारी नहीं है यह डाटा सीधे चाइना भेज दिया जाता है जहां से स्कोर किसी भी तरह से स्माल किया जा सकता है वह हमारे लिए एक बहुत बड़ी चुनौती भी खड़ी कर सकता है इसलिए भारत सरकार ने चाइना के 59 एप्स बंद कर दिए हैं।
सुरक्षा एजेंसियों ने सरकार को जो लिस्ट भेजी थी उसमें टिकटॉक, यूसी ब्राउजर, एक्सएंडर, शेयर इट और क्लीन मास्टर जैसे एप शामिल थीं। इसी साल अप्रैल महीने में सरकार ने एडवाइजरी जारी करी थी जिसमें कहा गया था कि कोई भी सरकारी महकमा जूम एप का उपयोग नहीं करेगा। जूम एप एक चाइनीस ऐप है जिससे की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग की जाती है। इससे पहले ताइवान ने भी जूम एप पर रोक लगा दी थी जिसके कारण सरकारी महकमा इसका इस्तेमाल नहीं कर सकता था।
ऐसे एप्स जो हमारी सिक्योरिटी से समझौता करते हैं उन पर बैन लगाने की मांग पहले से उठती रही है। सरकारी अधिकारियों का कहना है कि चाइनीज एप्स फिर चाहे वह एंड्राइड के लिए ही क्यों ना हो उनसे हमेशा स्पाइवेयर या किसी भी अन्य वियर के रूप में इस्तेमाल होने का खतरा रहता है।