Breaking News

उद्यान मंत्री ने ऊंचाहार में नई मंडी की आधारशिला रखी, किसानों को उपज का मिलेगा उचित मूल्य

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में उत्तर प्रदेश के राज्य कृषि उत्पादन मंडी परिषद द्वारा विभिन्न योजनाओं को प्राथमिकता पर संचालित किया जा रहा है। किसानों को उनकी उपज का उचित मूल्य मिले, इसके लिए राज्य सरकार कटिबद्ध है। किसान भाइयों की आय में वृद्धि हो, इसके लिए उद्यान विभाग में बागवानी क्षेत्र में विभिन्न योजनाओं में अनुदान भी सरकार द्वारा दिया जा रहा है। खाद्य प्रसंस्करण के क्षेत्र में 35 प्रतिशत का अनुदान मिल रहा है। प्रदेश के उद्यान, कृषि विपणन, कृषि विदेश व्यापार एवं कृषि निर्यात राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) दिनेश प्रताप सिंह ने रविवार को उत्तर प्रदेश राज्य कृषि उत्पादन मंडी परिषद द्वारा जनपद रायबरेली के नवीन मंडी स्थल ऊंचाहार के अंतर्गत शिलान्यास के अवसर पर कैथल में कहीं।

उद्यान मंत्री दिनेश प्रताप सिंह ने कहा कि ऊंचाहार क्षेत्र के किसानों को असुविधा न हो तथा उनकी उपज का उचित मूल्य मिले, इसके लिए उच्चस्तरीय मंडी की स्थापना कराई जा रही है। किसानों की आय बढ़े इसके लिए सरकार लगातार सतत प्रयास कर रही है। मंडी का क्षेत्र नहीं, बल्कि उद्यान विभाग भी उत्तर प्रदेश में किसानों की आय वृद्धि के लिए प्रयास कर रही है। सेंटर ऑफ एक्सीलेंस के माध्यम से स्वस्थ्य एवं उच्च गुणवत्ता वाली पौध किसान भाइयों को उपलब्ध कराई जा रही। इसी प्रकार सूक्ष्म सिंचाई पद्धति पर ड्रॉप मोर क्रॉप माइक्रो इरिगेशन योजना अंतर्गत 90 प्रतिशत तक अनुदान दिया जा रहा है।

मंत्री दिनेश प्रताप सिंह ने कहा कि रायबरेली की एकमात्र विधानसभा जिसमे आजादी के बाद से आज तक मंडी का निर्माण नही कराया जा सका था। उत्तर प्रदेश के यशस्वी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आशिर्वाद से इस क्षेत्र में आज नई मंडी की आधारशिला रखी।

उन्होंने कहा कि अभी तक ऊंचाहार के किसान अपनी कृषि उपज को बेचने के लिए लालगंज मंडी जाते थे जिसमे बहुत सारा समय व धन मार्ग व्यय पर खर्च हो जाता था। उन्होंने कहा कि ऊंचाहार मंडी की स्थापना से ऊंचाहार ही नही प्रतापगढ़,कौशांबी,फतेहपुर जनपद के किसानों को अपनी ऊपज का उचित मूल्य उनके आसपास ही मिल सकेगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button