हास्यमनोरंजन

बस प्यार से पापा ही कहता हूं.

चिंटू से एक आदमी ने पूछा- बेटा,
आपके पापा का क्या नाम है?
चिंटू- अंकल, अभी उनका नाम नहीं रखा मैंने,
बस प्यार से पापा ही कहता हूं.

…………………………………………………………………

टीचर (चिंटू से)- होमवर्क क्यों नहीं किया?
चिंटू- मैम, मैं जब पढ़ने बैठा तो लाइट चली गई.
टीचर- तो लाइट आने के बाद क्यों नहीं की पढ़ाई?

चिंटू- बाद में मैंनें इस डर से पढ़ने नही बैठा कि कहीं मेरी वजह से फिर से लाइट न चली जाए.

………………………………………………………………….

टीचर : अगर तुम्हे अपना कैरेक्टर सुधारना है तो अपनी टीचर को माँ समझो।

चिंटू : लेकिन मैडम इससे तो हमारे पापा का कैरेक्टर ख़राब होगा………

मैडम बेहोश……

…………………………………………………………………

छगन की 90 साल की दादी गुजर गईं. मैय्यत में कई लोग रो रहे थे.
पहला आदमी : अम्मा… हमें भी ले जातीं..
दूसरा आदमी : अम्मा हमें भी ले जातीं…
दो-चार आदमी और बोले : अम्मा हमें भी ले जातीं..
छगन (गुस्स में) : अबे सालों चुप हो जाओ…अम्मा क्या लोडिंग टेम्पो करके गई हैं.

……………………………………………………………….

पहला दोस्‍त – यार बता I Am Going To Toilet का मतलब क्‍या होता है?
दूसरा दोस्‍त- मै शौचालय जाता हूं।
पहला दोस्‍त-ऐसे कैसे जाएगा।
पहले इसका मतलब बता कर जा।।
जिसको भी पूछता हूं सबको शौचालय लग जाती है।

…………………………………………………………….AG

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button