राज्यउत्तर प्रदेश / यूपी

विगत दो वर्षों में यूपीएससी व यूपीपीएससी परीक्षाओं में 118 अभ्यर्थी हुए चयनित

समाज कल्याण विभाग के तत्वावधान में मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के अंतर्गत विगत दो वर्षों में संघ लोक सेवा आयोग के 23 उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग के 95 चयनित अभ्यर्थियों को कल लोक भवन में मुख्यमंत्री योगी द्वारा सम्मान पत्र प्रदान किया गया। साथ ही उनके उज्ज्वल भविष्य की शुभकामनाएं व बधाईयां दी।

इस अवसर पर समाज कल्याण राज्यमंत्री (स्व.प्र.) असीम अरुण ने अभ्यर्थियों को बधाई देते हुए कहा कि कहा कि अभ्युदय योजना एक चौन रिएक्शन की तरह काम करे। जो अभ्यर्थी चयनित हो, वो नियुक्ति के जनपदों में अभ्युदय कोचिंग को आगे बढ़ाएं, जिससे निजी कोचिंग संस्थानों पर निर्भरता कम हो। उन्होंने कहा कि विभाग द्वारा संचालित सर्वाेदय विद्यालयों में भी अभ्युदय केद्रों का संचालन प्रारंभ किया गया है। साथ ही विभागीय छात्रावासों को प्रतिभा केंद्र के रूप में विस्तृत विकसित किया जा रहा है, जहां अभ्युदय केंद्र की समस्त सुविधाएं भी प्राप्त होंगी।

ग़ौरतलब है कि मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना प्रदेश के समस्त जनपदों में संचालित है। इन संस्थानों में सभी वर्गों के अभ्यर्थियों को विषय विशेषज्ञों के मार्गदर्शन में ऑफ़लाइन व ऑनलाइन निःशुल्क प्रशिक्षण प्रदान किया जाता है।

’इनका हुआ सम्मान’

हाल ही में यूपीएससी परीक्षा-2022 में चयनित अभ्यर्थी जैसे-कानपुर नगर निवासी कृतिका मिश्रा 66 वीं रैंक, मेरठ निवासी द्विज गोयल, 71 वीं रैंक, उधमसिंह नगर उत्तराखंड निवासी चंद्रकांत बगोरिया 75 वीं रैंक, अलीगढ़ निवासी असद ज़ुबेरी 86 वीं रैंक व अन्य चयनित अभ्यर्थियों को सम्मानित किया गया, जो प्रदेश एवं संघ लोक सेवा आयोग की परीक्षाओं में चयनित हुए।

समारोह में समाज कल्याण राज्यमंत्री संजीव गोंड, आयुक्त समाज कल्याण हेमन्त राव,प्रमुख सचिव, समाज कल्याण डॉ हरिओम सचिव, महानिदेशक उपाम वेंकटेश्वर लूं समाज कल्याण समीर वर्मा निदेशक समाज कल्याण पवन कुमार व अन्य विभागीय अधिकारी उपस्थित रहें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button