भूखे प्रवासी मजदूरों ने प्लेटफार्म से लूटा खाने का सामान, रेलवे ने नहीं की कोई व्यवस्था

Medhaj News 26 May 20 , 07:16:28 India Viewed : 530 Times
thumb.jpg

रेलवे की बदइंतजामी के चलते यात्रियों का धैर्य जवाब देने लगा है। श्रमिक स्पेशल ट्रेनें कई -कई घंटे की देरी से अपने गंतव्य तक पहुंच रही है। अपने-अपने घर लौट रहे प्रवासी भूख-प्यास से तड़प रहे हैं। भीषण गर्मी ने परेशानी और बढ़ा दी है। हालात ये हैं कि जहां भी खाना और पानी दिखता है प्रवासी टूट पड़ते हैं। 

भूखे प्‍यासे लोगों ने खान-पान का सारा सामान लूट लिया  

सोमवार को महाराष्ट्र के पालघाट से बिहार शरीफ जा रही श्रमिक स्पेशल ट्रेन में सफर कर रहे भूखे प्यासे कामगारों ने प्रयागराज छिवकी जंक्शन पर खाद्य सामग्री के पैकेट लूट लिए। स्टाल में तोड़फोड़ की। वहां से खान-पान का सारा सामान लूट लिया। अपने परिचितों को भोजन पहुंचाने आए लोगों से भी पैकेट झपट लिया। करीब 200 से ज्यादा यात्रियों ने देखते ही देखते साढ़े छह हजार लोगों की खाद्य सामग्री लूट ली। कानपुर सेंट्रल स्टेशन पर ही ऐसा ही नजारा देखने को मिला। यहां केरल के पालक्कड़ से बेतिया (बिहार) जाने वाली श्रमिक स्पेशल ट्रेन में पानी को लेकर लूटपाट हुई तो महाराष्ट्र के बांद्रा से मधुबनी (बिहार) जा रही ट्रेन में बंद, नमकीन और मठरी को लेकर झीना झपटी की गई। यह देश के अलग-अलग हिस्‍से में देखने का मिला है।

कानपुर में पानी की लूटपाट, नमकीन के लिए छीना-झपटी

कानपुर सेंट्रल रेलवे स्टेशन से रविवार रात 11 बजे से सोमवार दोपहर 3:30 बजे तक तकरीबन 85 श्रमिक स्पेशल ट्रेनें गुजरीं। इस दौरान 17 खाली रैक और 2 स्पेशल ट्रेनों को भी गुजारा गया। लेटलतीफी तो तीन दिन पहले जैसी नहीं रही, लेकिन गर्मी में लोग प्यास और कोच के पंखा न चलने से परेशान नजर आए। बेतिया जा रही श्रमिक स्पेशल ट्रेन सेंट्रल स्टेशन पहुंची तो पानी के लिए होड़ मच गई। रेलवे की ओर से पानी की बोतलों का वितरण कराने के साथ पाइप लगाकर कोच के भीतर ही लोगों को पानी उपलब्ध कराया गया। रेलवे ने यात्रियों के लिए 25-25 लंच पैकेट के तीन-तीन पैकेट बोगियों में डाले। इसे लेकर भी छीना झपटी हुई। किसी ने एक साथ चार पैकेट उठाए तो किसी को एक भी नहीं मिला।

80 घंटे विलंब रही ट्रेन 

सोमवार को एक श्रमिक स्पेशल ट्रेन कोडरमा पहुंची। सूरत से मोतिहारी के लिए चली इस ट्रेन को नई दिल्ली-हावड़ा ग्रैंड कार्ड सेक्शन के मुगलसराय, गया, कोडरमा, धनबाद, और आसनसोल के रास्ते डायवर्ट कर चलाया गया। यह ट्रेन 80 घंटे विलंब से चल रही थी। ऐसे में यात्रियों को खाना-पीना उपलब्ध नहीं हो पा रहा है। यात्रियों का धैर्य जवाब दे गया तो अपराह्न लगभग 4 बजे कोडरमा में यात्रियों ने चेन पुलिंग कर ट्रेन रोक दी। यहां यात्री भोजन और पानी की मांग को लेकर हंगामा करने लगे। बाद में संबंधित अधिकारियों ने बताया कि अगले स्टेशन पर भोजन की व्यवस्था है। इसके बाद यात्री माने।

पूर्णिया जाने वाली ट्रेन छपरा भेजी गई

04066 नंबर की ट्रेन आनंद विहार से पूर्णिया जाने वाली थी। यह किसी कारणवश रूट डायवर्ट होकर गया होते हुए छपरा जाने लगी। स्टेशन प्रबंधक राजीव कमल ने बताया, स्टेशन पर गाड़ी 2:38 बजे पहुंची थी और यहां से 3:52 बजे गया के लिए रवाना हुई। डेढ़ घंटे से अधिक समय तक ट्रेन यहां रुकी रही। उन्होंने बताया कि गया में प्रत्येक दिन सैकड़ों श्रमिक उतरते है। उन्हें थर्मल स्क्रीनिंग के बाद ही छोड़ा जाता है। गया स्टेशन पर भीड़ न हो, इसके लिए ट्रेन को डेहरी स्टेशन पर रोका गया। प्लेटफार्म खाली होने पर ट्रेन को रवाना किया गया। 


    0
    0

    Comments

    • So sad

      Commented by :Aditya kumar
      28-05-2020 07:39:49

    • So sad

      Commented by :Afzal ahmad
      27-05-2020 11:44:39

    • Sooo sad

      Commented by :Indrajeet Kumar yadav
      27-05-2020 06:09:40

    • This is not a loot. This is a race of survive.

      Commented by :Ravindra Kumar Goyal
      26-05-2020 23:32:25

    • Better arrangement is required

      Commented by :Gaurav Lohani
      26-05-2020 23:31:03

    • Lord all laborers reach their respective homes safe and sound

      Commented by :Aaliya
      26-05-2020 19:37:28

    • Very bad arrangements

      Commented by :Aaliya
      26-05-2020 19:31:04

    • Good

      Commented by :Yushra
      26-05-2020 18:24:53

    • Good

      Commented by :Arfa
      26-05-2020 18:24:26

    • Sad and bad news.

      Commented by :Priya Singh
      26-05-2020 18:02:10

    • Good

      Commented by :Musarraf Ahsan
      26-05-2020 15:36:51

    • Very poor planing of railway

      Commented by :Tajuddin Akhtar
      26-05-2020 14:11:52

    • Gud

      Commented by :Saniya
      26-05-2020 13:42:24

    • Poor fellows what they have left to do?

      Commented by :Ankit kumar
      26-05-2020 13:31:42

    • Modi ji railway ko private kar digiye

      Commented by :Akhilesh kr. Sharma
      26-05-2020 13:20:09

    • Railway poor planning

      Commented by :Govind lal
      26-05-2020 13:09:06

    • Poor planning

      Commented by :Bimlesh Kumar
      26-05-2020 12:31:01

    • Very poor planning

      Commented by :Manoj Yadav
      26-05-2020 12:00:42

    • Please provide food railway for all labour

      Commented by :Asif iqbal
      26-05-2020 11:47:18

    • Poor planning for travellers

      Commented by :Subrata Kumar mahato
      26-05-2020 11:38:14

    • They are human beings, thirst and hunger are natural Railway and other authorities have to do all the arrangements that are essential, nothing is on ground. That's why it is happening, please pray for these helpless people.

      Commented by :Zain
      26-05-2020 11:38:09

    • Poor planning

      Commented by :Akhilesh Kumar Singh
      26-05-2020 11:30:00

    • ITS TOTAL RESPONSIBILITY OF RAILWAY TO PROVIDE MEAL & WATER

      Commented by :Ashok Kumar Seth
      26-05-2020 11:14:58

    • Bcs of Railway poor planning & management that's why this happening & migrant workers are facing it..

      Commented by :Punit Kumar chauhan
      26-05-2020 11:08:30

    • Very bad arrangements

      Commented by :Pintoo kumar
      26-05-2020 11:03:34

    • Bad arengment

      Commented by :Sharfa Iqubal
      26-05-2020 10:57:04

    • Very bad arrangement

      Commented by :Md Shahnawaz
      26-05-2020 10:54:02

    • Sarkar sahi arrangement krne me sakcham nhi hai

      Commented by :Ashwini kumar Darbhanga Division
      26-05-2020 10:49:49

    • Very bad arangment

      Commented by :Very bad arrangment
      26-05-2020 10:48:22

    • Very bad arrangements

      Commented by :Rinku ansari
      26-05-2020 10:36:30

    • Very bad arrangement

      Commented by :Priyanshu kumar Priyadarshi
      26-05-2020 10:31:01

    • Very poor arrangment

      Commented by :Shambhu kr mishra
      26-05-2020 10:17:42

    • This is another example of mismanagement, officials concerned should own their responsibilities.

      Commented by :Rajeev Kumar
      26-05-2020 10:09:09

    • Government must to see in this, no one can manage after delay of 80 hrs.

      Commented by :Mithilesh Kumar Singh
      26-05-2020 10:07:19

    • Poor arrangements

      Commented by :Mohammad Ashhab Alam
      26-05-2020 09:53:52

    • Sad.news

      Commented by :Geetesh singh baghel
      26-05-2020 09:49:26

    • Hope railway will make more proper management for them.

      Commented by :Mani
      26-05-2020 09:42:13

    • Sad news

      Commented by :Bikash Kumar Srivastawa
      26-05-2020 09:40:02

    • Due to lack of proper arrangements..

      Commented by :Rashid
      26-05-2020 09:33:24

    • कहीं न कही सरकार इन सब वेबस्था में नाकाम रही हैं।

      Commented by :Sameer gupta
      26-05-2020 09:32:01

    • Sad news

      Commented by :Pritesh Kumar Singh
      26-05-2020 09:30:50

    • Sad news

      Commented by :Pritesh Kumar Singh
      26-05-2020 09:30:28

    • कहीं न कही सरकार इन सब वेबस्था में नाकाम रही हैं।

      Commented by :Vishek Kumar
      26-05-2020 09:28:50

    • Sad n

      Commented by :AMIT KUMAR
      26-05-2020 09:27:10

    • पहले देश की अर्थव्यवस्था अपने पटरी से भटक गया और अब भारतीय रेल अपने पटरी से भटक रहा है क्यो।गरीब लोग भूखे प्यासे मार रहे है।दुःखद

      Commented by :Santosh kumar Rosera
      26-05-2020 09:24:54

    • Unemployment and Starvation is the main reason.

      Commented by :Avinash Kumar
      26-05-2020 09:23:58

    • so sad

      Commented by :chandra mohan
      26-05-2020 09:11:00

    • Bhukha majdur kya kare kaise bhi pet bhare

      Commented by :Dhiraj kumar
      26-05-2020 09:10:44

    • Sad news

      Commented by :chandra mohan
      26-05-2020 09:09:53

    • Railway department ko suvidha deni chahiye. Very bad

      Commented by :Rajesh Kumar Jhansi
      26-05-2020 09:02:43

    • This is not fair.

      Commented by :Atul Kumar Singh
      26-05-2020 09:02:01

    • Sad news

      Commented by :Dharmendra kumar
      26-05-2020 08:59:21

    • धैर्य जवाब देने लगा है अब

      Commented by :Vishal Rajak
      26-05-2020 08:53:32

    • What is happening in India.

      Commented by :Gaurav Singh, Haridwar, (Uttrakhand)
      26-05-2020 08:52:09

    • Very Sad news

      Commented by :Vikas Yadav
      26-05-2020 08:49:16

    • Railway department ko suvidha krni karni chahiye thi

      Commented by :Ram kumar
      26-05-2020 08:48:16

    • very bad

      Commented by :abhiyant kumar singh
      26-05-2020 08:48:11

    • Very bad with labourers....

      Commented by :Rajesh Kumar
      26-05-2020 08:46:50

    • Very bad news

      Commented by :Nandan Kumar Gupta
      26-05-2020 08:43:46

    • Bad news

      Commented by :Raja Kumar Gupta
      26-05-2020 08:42:57

    • So sad

      Commented by :Amit Kumar
      26-05-2020 08:42:04

    • Oooooo

      Commented by :Mitthu
      26-05-2020 08:41:09

    • So sad

      Commented by :Ravi Roshan Paswan
      26-05-2020 08:40:41

    • Help them....

      Commented by :Namita kumari
      26-05-2020 08:40:29

    • So sad.

      Commented by :ABHAY KR SINGH
      26-05-2020 08:34:30

    • Good

      Commented by :Ravi Kumar
      26-05-2020 08:25:00

    • Railway Logon Ko khana bhi nahi Khila Sakta H.har Kisi Ne covid-19 ke Samay Kuchh Na Kuchh yogdan Kiya Hai To Indian Railway Kuchh Nahin kar sakti.

      Commented by :SATYAVIR Singh
      26-05-2020 08:24:55

    • Bad news

      Commented by :Dinesh Yadav
      26-05-2020 08:23:52

    • Very bad

      Commented by :Rahul kuamr
      26-05-2020 08:20:01

    • क्या होगी देश की हालत, क्या हो गयी भगवान

      Commented by :Arvind Kumar Deepak, AQCME, MAHUA
      26-05-2020 07:50:58

    • Good.

      Commented by :Randhir Kumar Gaurav
      26-05-2020 07:50:34

    • Zanab bhuk hai ye ..inshan nahi samjhta rule or niyam

      Commented by :Rohit gautam
      26-05-2020 07:46:44

    • Majbur majdoor...kya kre ..bechare

      Commented by :Rakesh Kumar
      26-05-2020 07:40:26

    • .

      Commented by :Nishikant kumar(AITM)DSS
      26-05-2020 07:35:10

    • Good

      Commented by :Sumit ranjan
      26-05-2020 07:34:51

    • Bhuka majdur kuchh bhi kr skta hai

      Commented by :Govind lal
      26-05-2020 07:33:49

    • So sad

      Commented by :Abhimanyu kumar
      26-05-2020 07:32:09

    • Ye to hona hi tha

      Commented by :Ranjan Kumar
      26-05-2020 07:31:38

    • Itna lamba safer h. Kahi milega nahi to fir ye to hana hi h.

      Commented by :Bhamar Singh
      26-05-2020 07:31:38

    • Right....

      Commented by :Pranav kumar
      26-05-2020 07:31:01

    • Ye to hona hi tha

      Commented by :Ranjan Kumar
      26-05-2020 07:30:48

    • So sad but majdoor bechare kya karte ....

      Commented by :Indrajeet arya
      26-05-2020 07:30:34

    • Govt has taken too long in deciding whether to start trains or not and now it is even failing to provide food and other basic amenities.

      Commented by :Mrityunjay Shukla
      26-05-2020 07:30:14

    • Commented by :MD IRFAN ANSARI
      26-05-2020 07:27:59

    • ये तो होना ही था ।

      Commented by :Ravindra
      26-05-2020 07:25:09

    • Ye to hona hi tha

      Commented by :Sushil Kumar Gautam
      26-05-2020 07:24:17

    • Load More

    Leave a comment



    Similar Post You May Like

    Trends

    Special Story