कल से एक हफ्ते के लिए हजारीबाग क्षेत्र में लागू होगा संपूर्ण लॉकडाउन

Medhajnews 14 Jul 20 , 17:03:25 India Viewed : 1754 Times
57.jpg

धनबाद: देश में कोरोना के मामले लगातार बढ़ते जा रहे है। कोरोना संक्रमण के बढ़ती रफ्तार को देख प्रशासन ने जिले के नगर निगम क्षेत्र में 15 जुलाई से सात दिनों का संपूर्ण लॉकडाउन लगाने का फैसला किया है। इस संबंध में उपायुक्त डॉ. भुवनेश प्रताप सिंह ने मंगलवार को ऑनलाइन पीसी कर जानकारी दी। साथ ही उन्होंने ट्वीट कर जानकारी दी कि सात दिनों के संपूर्ण लॉकडाउन के दौरान नगर निगम क्षेत्र में आवश्यक सेवा छोड़कर सभी प्रतिष्ठान बंद रहेंगे। वहीं, राज्य में कुल कोरोना संक्रमितों की संख्या 3963 हो गई है।



कोरोनावायरस का संक्रमण राज्य के सभी 24 जिलों तक पहुंच चुका है। राज्य में कुल संक्रमितों की संख्या 3963 है। इनमें बोकारो के 88, चतरा के 120, देवघर के 85, धनबाद के 294, दुमका के 18, पूर्वी सिंहभूम के 676, गढ़वा के 150, गिरिडीह के 127, गोड्डा के 23, गुमला के 130, हजारीबाग के 305, जामताड़ा के 33, खूंटी के 35, कोडरमा के 282, लातेहार के 85, लोहरदगा के 104, पाकुड़ के 93, पलामू के 94, रामगढ़ के 191, रांची के 428, साहेबगंज के 43, सरायकेला के 104, सिमडेगा के 368 और पश्चिमी सिंहभूम के 96 मरीज शामिल हैं।



राज्य में कोरोना संक्रमण का सिलसिला थम नहीं रहा और अब राज्य के कोविड अस्पतालों में गिनती के ही बेड बचे हैं। डेडिकेटेड कोविड हॉस्पिटलों में एक-दो दिनों में ही बेड फुल हो जाएंगे। इसके बाद गंभीर कोरोना मरीजों के लिए इन सेंटरों में बेड खाली नहीं रहेंगे। ऐसी स्थिति में मरीजों को प्राइवेट अस्पतालों में भेजने की तैयारी है। साथ ही कम गंभीर मरीजों को जिलों में बनाए गए कोविड हेल्थ सेंटर और कोविड केयर सेंटर में रखा जाएगा। गंभीर होने पर ही कोविड हॉस्पिटल में लाया जाएगा। 



राज्य में गंभीर कोरोना मरीजों के लिए विभिन्न जिलों में 1900 बेड बनाए गए हैं। इसमें करीब 400 बेड आईसीयू के हैं। जबकि 13 जुलाई तक 1627 एक्टिव मरीज हो गए। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार रिम्स को स्टेट इंटीग्रेटेड कोविड सेंटर बनाया गया है। इसके अलावा कई जिलों को जोड़कर डेडिकेटेड कोविड हॉस्पिटल बनाया गया है। कोविड हेल्थ सेंटर में 2148 बेड तथा कोविड केयर सेंटर में 4057 बेड बनाए गए हैं। राजधानी में बढ़ाए गए 90 बेड रांची के पारस हॉस्पिटल में 50 बेड अभी सुरक्षित हैं। डोरंडा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में 60 बेड बनाए गए हैं। वहीं सीएचसी रातू, कांके एवं पिठोरिया में भी 10-10 बेड बनाए जा रहे हैं। इनमें सामान्य मरीजों का ही उपचार होगा।


    12
    0

    Comments

    • Good decision

      Commented by :Avinash Kumar (PuVVNL IPDS)
      14-07-2020 23:07:56

    • Good decision

      Commented by :Nidhi Azad
      14-07-2020 22:21:54

    • Welcome decision by our Honourable DC Sir. Thank you sir

      Commented by :Ajay Kumar Azad
      14-07-2020 22:09:50

    • Good decision

      Commented by :Amit Kumar
      14-07-2020 22:03:00

    • Good decisions

      Commented by :Pintoo kumar jhansi
      14-07-2020 21:50:59

    • Good

      Commented by :Aslam
      14-07-2020 21:34:43

    • Good decision.

      Commented by :Pradeep Kumar
      14-07-2020 21:30:23

    • Ok

      Commented by :Ashish kumar nainital
      14-07-2020 20:31:09

    • hearty thanks

      Commented by :AJEET Kumar
      14-07-2020 20:29:26

    • hearty thanks

      Commented by :M.K.Pandey , Hazaribagh
      14-07-2020 20:06:23

    • जरूरी था

      Commented by :Aditya Yadav
      14-07-2020 19:28:50

    • Load More

    Leave a comment



    Similar Post You May Like

    Trends

    Special Story