देश के 108 प्रमुख सिद्धपीठों में से एक है मां विंध्यवासिनी का पावन धाम

Medhaj news 18 Oct 20 , 07:57:33 India Viewed : 1611 Times
maa.png

नवरात्र में शक्ति के प्रमुख स्थलों में दर्शन एवं पूजन का विशेष महत्व है | देश के प्रमुख शक्ति स्थलों में उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर जिले में मां विंध्यवासिनी का पावन धाम स्थित है | शक्ति की साधना और आराधना में देवी के इस पावन मंदिर का अत्यधिक महत्व है | नवरात्र के दौरान इस पावन धाम पर देवी के भक्तों की भारी भीड़ उमड़ती है | मां विंध्यवासिनी का भव्य मंदिर गंगा नदी के किनारे विंध्याचल की पहाड़ियों पर बना है | मां विंध्यवासिनी का यह मंदिर देश के 108 सिद्धपीठों में से एक है | विंध्याचल पर्वत पर निवास करने वाली माता यहां पर सशरीर अवतरित हुई थीं | यहां पर माता अपने तीनों रूप यानी महासरस्वती, महालक्ष्मी और महाकाली के रूप में विराजमान हैं | यही कारण है कि इसे महाशक्तियों का त्रिकोण भी कहा जाता है | इस पावन विंध्य धाम में मां विंध्यवासिनी के साथ मां काली और अष्टभुजा का मंदिर है | इस त्रिकोण के बारे में मान्यता है कि यदि यहां पर आने वाला व्यक्ति तीनों देवी के दर्शन नहीं करे तो उसे उसकी साधना का संपूर्ण फल नहीं मिलता है | 

मौजूदा समय में मां विंध्यवासिनी का जहां पर पावन धाम है, वहां पर कभी बड़ा जंगल हुआ करता था, लेकिन आज यहां की तीर्थ यात्रा काफी सुगम है | काले रंग के पत्थर से निर्मित देवी की मूर्ति काफी प्राचीन मानी जाती है | मंदिर में माता का दिन भर में चार बार श्रृंगार और आरती की जाती है | मां विन्ध्यवासिनी की चार आरती — मंगला आरती, दरबार आरती, राजश्री आरती और देव आरती में शामिल होने से चार पुरुषार्थ धर्म, काम, अर्थ व मोक्ष की प्राप्ति होती है | नवरात्र के अवसर माता के मंदिर में दुर्गा सप्तशती के पाठ करने का विशेष महत्व है | मां विंध्यवासिनी के मंदिर से जुड़ी मान्यता है कि औरंगजेब के समय में जब भारत के तमाम मंदिर को तुड़वाया जा रहा था, उस समय एक विचित्र घटना घटी थी | औरंगजेब की सेना जब मां विंध्यवासिनी के मंदिर को तोड़ने के लिए आगे बढ़ी तो न जाने कहां से बड़ी संख्या में भौरों ने उस पर हमला बोल दिया था | इसके बाद औरंगजेब की सेना ने मंदिर तोड़ने का ख्याल छोड़ आगे बढ़ गई थी | 


    3
    0

    Comments

    • Jai Maa

      Commented by :Ashutosh Patra
      18-10-2020 10:03:57

    • Load More

    Leave a comment



    Similar Post You May Like

    Trends

    Special Story