advy_govt

एनसीपी का बीजेपी को तंज, दिल्ली में बैठकर खेती नहीं चलायी जा सकती

Medhaj News 30 Dec 20 , 04:55:28 India Viewed : 1679 Times
EqYz9RdU0AEe_Za.png

NCP चीफ और देश के कृषि मंत्री रह चुके शरद पवार ने केंद्र सरकार को किसानों के मुद्दे को गंभीरता से लेने की सलाह दी है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार बिना राज्यों से मशविरा किए तीनों नए कृषि कानून थोप रही है। सरकार दिल्ली में बैठकर खेती-किसानी चलाना चाहती है, लेकिन ऐसा नहीं हो सकता।

केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने दावा किया था कि मनमोहन सिंह की अगुवाई वाली UPA सरकार में कृषि मंत्री रहते हुए शरद पवार भी कृषि सुधार चाहते थे, लेकिन सियासी दबाव के कारण नहीं कर पाए। इस पर पवार ने कहा वे कृषि सुधार करना चाहते थे, लेकिन इस तरह नहीं जैसे यह सरकार कर रही है। पवार ने बताया कि बुधवार को सरकार और किसानों की 40 यूनियनों के साथ इस मसले पर बातचीत होनी है। अगर यह बैठक भी नाकाम रहती है तो विपक्षी दल उस हिसाब से आगे की रणनीति बनाएंगे।

न्यूज एजेंसी PTI को दिए इंटरव्यू में पवार ने मंगलवार को कहा कि मैं और मनमोहन सिंह कृषि क्षेत्र में कुछ सुधार लाना चाहते थे। उस समय कृषि मंत्रालय ने सभी राज्यों के कृषि मंत्रियों और सेक्टर के एक्सपर्ट्स के साथ प्रस्तावित सुधारों पर काफी समय तक बात की। कुछ राज्यों के इस बारे में कुछ मजबूत ऑब्जेक्शन थे। आखिरी फैसला लेने से पहले कृषि मंत्रालय ने फिर से राज्य सरकारों से उनकी राय मांगी थी।


    2
    0

    Comments

    • Ok

      Commented by :Sirajuddin Ansari
      30-12-2020 13:02:44

    • Ok

      Commented by :Rinku Ansari
      30-12-2020 12:07:03

    • Load More

    Leave a comment



    Similar Post You May Like

    advt_govt

    Trends

    Special Story