राहुल गाँधी की मोदी को चुनौती, हिम्मत है तो ये करके दिखायें

Medhaj News 14 Jan 20 , 11:11:19 India Viewed : 133 Times
rahul_gandhi_23.jpg

कांग्रेस ने नागरिकता संशोधन अधिनियम (CAA) मुद्दे पर सोमवार को राष्ट्रीय राजधानी में विपक्षी दलों की बैठक बुलाई। इस मीटिंग के बाद कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि युवाओं की समस्या का समाधान करने के बजाय नरेंद्र मोदी देश का ध्यान बांटने और लोगों में फूट डालने की कोशिश कर रहे हैं। युवाओं की आवाज वैध है, इसे दबाया नहीं जाना चाहिए, सरकार को इसे सुनना चाहिए।

राहुल गांधी ने कहा, मैं प्रधानमंत्री को चैलेंज करता हूं कि वो किसी भी यूनिवर्सिटी में बिना अपनी पुलिस और सुरक्षाकर्मियों के जाकर स्टूडेंट्स को यह बताएं कि देश के यूथ के लिए उनकी क्या विज़न है। मोदी में युवाओं को यह बताने का साहस होना चाहिए कि भारतीय अर्थव्यवस्था एक विपत्ति क्यों बन गई है? उनमें छात्रों के सामने खड़े होने की हिम्मत नहीं है।





विपक्षी दलों की बैठक के बाद सीपीआई के नेता डी. राजा ने मीडिया से कहा, विपक्षी नेताओं ने नागरिकता संशोधन अधिनियम और एनआरसी के खिलाफ देश बचाओ, लोकतंत्र बचाओ, संविधान बचाओ की भावना के साथ 23, 26 और 30 जनवरी के दिन देश के नागरिकों को लामबंद करने का फैसला किया है।

राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (रालोसपा) से उपेंद्र कुशवाहा और हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा (हम) से जीतन राम मांझी बैठक में शामिल हुए। इसके अलावा इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग (आईयूएमएल) के नेता पी. कुन्हलि कुट्टी, ऑल इंडिया यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट (एआईयूडीएफ) के प्रमुख सिराजुद्दीन अजमल और भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (भाकपा) के नेता डी. राजा ने भी बैठक में हिस्सा लिया। इस मीटिंग की अध्यक्षता कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने की। 


    0
    0

    Comments

    Leave a comment



    Similar Post You May Like

    Trends

    Special Story