मनोरंजनहास्य

कैसे जाऊं, आगे कुत्ते भौंक रहे हैं

kaise-jaun-aage-kutte-bhaunk-rahe-hai

भाई ने रसोई में गैस पर कूकर चढा सेल्फी वाली पोस्ट डाली और लिखा
बीवी मायके गयी है और मुझे चाय बनानी है,
कुकर में कितनी सिटी लगाऊ?
किसी ने कहा- कुकर में ऑलरेडी एक सीटी लगी है और कितनी लगाएगा
किसी ने कहा बेवकूफ चाय कुकर में थोड़ी बनती है कड़ाही चढा,
एक बोला- पहले दो घण्टे चाय पत्ती भिगो ले,
दो तीन सीटी में काम चल जाएगा
किसी ने सुझाया खिड़की पर जाके एक सीटी बजा,
पड़ौसन दे जाएगी।
—————————————————————————–
जब एक लड़की लड़के से क्लास मे ऐक पेन
मांगती हे तो..
लड़का- कोनसा दूं?…
ब्लु, ब्लैक, रेड, ग्रीन??
ओर जब एक दोस्त मांगे तब…
लड़का- हट साले लडकी देखने आता है क्या ?
—————————————————————————–
एक आदमी की एक पैर की हड्डी टूट गयी।।
वो हॉस्पिटल गया तो देखा कि
वहां एक आदमी की दोनों पैरों की हड्डी
टूटी हुई थी।
तो वो उसको देखकर बोला कि
आपकी दो पत्नियां हैं क्या??
—————————————————————————–
एक खरगोश रोज़ एक लोहार की दुकान पर जाता और पूछता गाजर है???
लोहार इंकार कर देता।
एक दिन लोहार को बहुत गुस्सा आया और उसने पकड़कर खरगोश के दांत तोड़ दिए।
और कहा- अब तू “गाजर” खा के दिखा?
फिर क्या
अगले दिन खरगोश आया और पूछने लगा –
“गाजर का हलवा है?”
इसे कहते हैं positive attitude
—————————————————————————–
दो महिलाएँ एक फंक्शन में गईं ।
वहाँ पहली महिला जिस भी जगह बैठने लगती तो..
दुसरी महिला उसकी बैठने की जगह को अपने दुपट्टे से साफ कर देती ।
तकरीबन पाँच- दस बार ऐसा हुआ ।
तब किसी ने दूसरी महिला से पूछा कि,
“तू खुद की बजाय, इस औरत की जगह क्यों साफ कर रही है?”
तो वो महिला बोली, “क्या करूँ बहना?”
ये मेरी जेठानी है !
और ये आज मेरी साड़ी पहन कर आई है।
—————————————————————————–
एक आदमी रात को गली के सामने खड़ा था।
वहां के चौकीदार ने देखा तो कड़क कर पूछा
कौन हो तुम यहां क्या कर रहे हो?
आदमी बोला, “मेरा नाम शेर सिंह है”।
चौकीदार- पिता का नाम क्या है?
आदमी- शमशेर सिंह।
चौकीदार- कहां रहते हो?
आदमी- शेरों वाले मोहल्ले में।
चौकीदार- तो इतनी रात में यहाँ खड़े क्या कर रहे हो,
जाओ अपने घर जाओ?
आदमी- कैसे जाऊं, आगे कुत्ते भौंक रहे हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button