विशेष खबर

लक्ष्मण कुमार- महाभारत के अनसुने पात्र

लक्ष्मण कुमार की कहानी दुखद है। वह महाभारत के मुख्य प्रतिद्वंद्वी दुर्योधन और उसकी पत्नी भानुमती का पुत्र था। लक्ष्मण कुमार एक कुशल योद्धा थे, और उन्होंने कुरुक्षेत्र युद्ध में बहादुरी से लड़ाई लड़ी। हालाँकि, वह युद्ध के तेरहवें दिन अर्जुन के पुत्र अभिमन्यु द्वारा मारा गया था।

लक्ष्मण कुमार की मृत्यु दुर्योधन के लिए एक बड़ा झटका थी। उनकी भानुमती से शादी को कुछ ही समय हुआ था और उनकी कोई अन्य संतान भी नहीं थी। दुर्योधन इतना दुखी हुआ कि उसने अपने पुत्र की मृत्यु का बदला लेने की कसम खा ली। अंततः वह अभिमन्यु को मारने में सफल हुआ, लेकिन इसकी बड़ी कीमत चुकानी पड़ी। लक्ष्मण कुमार की मृत्यु युद्ध की निरर्थकता की याद दिलाती है।

यह एक कहानी है कि कैसे नफरत और हिंसा सबसे निर्दोष जीवन को भी नष्ट कर सकती है।

  • यहां लक्ष्मण कुमार की कहानी के बारे में कुछ अतिरिक्त विवरण दिए गए हैं:
  • उनका जन्म उसी दिन हुआ जिस दिन अभिमन्यु का जन्म हुआ था।
  • वह एक कुशल योद्धा और धनुर्धर था।
  • उनकी मृत्यु युद्ध में एक प्रमुख मोड़ थी।
  • कहा जाता है कि उनकी आत्मा का पुनर्जन्म कृष्ण के पुत्र प्रद्युम्न के रूप में हुआ था।

READ MORE… जानिए क्या हैं ज्ञानवापी मामला ? और उसका विवाद, केस और दावे के बारे में

READ MORE… विनायक चतुर्थी 2023: भगवान गणेश के आशीर्वाद का महत्वपूर्ण त्योहार

READ MORE… अल्प आयु मार्कंडेय महाराज की कहानी

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button